चार धाम यात्रा 2018 – कब खुलेंगे कपाट

कब खुलेंगे चार धाम मंदिरों के कपाट 2018

आइये जानते है की भारत के उत्तराखंड के चार धाम की यात्रा 2018 में कब से शुरू हो रही है | यह चारो धाम दुर्गम जगह पर है अत: हर साल ये यात्राये सिर्फ छ माह के लिए ही चालू की जाती है |

char dham mandir kab khulenge 2018

उत्तराखंड के गढ़वाल मंडल में बसे ये चारो धाम  हिन्दू धर्म के आस्था के केंद्र है | उत्तरकाशी जिले में गंगोत्री और यमुनोत्री धाम है जबकि चमोली जिले में बद्रीनाथ धाम है जबकि केदारनाथ रूद्रप्रयाद जिले में स्थित है |

शिव के चमत्कारी और दुर्गम धाम श्री केदारनाथ धाम मंदिर के कपाट दर्शनकर्त्ताओ के लिए 29 अप्रैल  को भव्य पूजा अर्चना के साथ खुलेंगे | जबकि श्री गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर के कपाट 18 अप्रैल को ही खोले जायेंगे |  श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट सबसे अंत में  30 अप्रैल को प्रात: 4.30 बजे खुलेंगे ।

सूत्रों के अनुसार 18 अप्रैल को ही श्री यमुनोत्री मंदिर के कपाट 12.15 बजे दिन में खुलेंगे। उत्तराखंड स्थित विश्वप्रसिद्ध उपरोक्त चारों धामों पर देश-विदेशों के बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शनों के लिए प्रत्येक वर्ष पहुंचते हैं।

बद्रीनाथ का छत्र 600 साल बाद बदला जायेगा 

इस साल भगवान विष्णु के परम धाम बद्रीविशाल मंदिर में लगा 600 साल पुराना स्वर्ग का छत्र हटाकर नया छत्र लगाया जायेगा | 600 साल पहले मध्य प्रदेश की महरानी अहिला होलकर ने यह छत्र चढ़ाया था |

बद्रीनाथ धाम में नया छत्र अब 2018 में पंजाब लुधियाना के मुक्त परिवार को बद्रीनाथ धाम के छत्र की सेवा का मौका मिला है। नए छत्र में चार किलो सोने, हीरे, पन्ने और कई रत्नों का प्रयोग किया गया है। यह कृष्ण जन्मभूमि मथुरा में बनवाया गया है |

Other Similar Posts

पिथौरागढ़ की रहस्यमयी पवित्र पाताल भुवनेश्वर गुफा मंदिर

लाखामंडल शिवलिंग का चमत्कार – मरे हुए को भी जीवन देता है यह शिवलिंग

व्यास पोथी – इस स्थान पर वेद व्यास जी ने गणेश जी से महाभारत लिखवाई थी

हरिद्वार यात्रा में दर्शनीय स्थल और मंदिर

साधू संत क्यों पहनते है गेरुए (भगवा ) रंग के कपड़े – जानिए इसका राज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *