धार्मिक सप्तपुरी नगर – आस्था से परिपूर्ण भारत के 7 शहर

धार्मिक सप्तपुरी नगर

7 Most Religious Cities Of India : भारत के 7 सबसे पवित्र और धार्मिक शहर

सनातन धर्म में भारत के मुख्य धार्मिक सात नगरों को बहुत पवित्र और आस्था से परिपूर्ण बताया गया है | इन्हे धार्मिक  सप्तपुरी भी कहा जाता है । भगवान कृष्ण , श्री राम , शिव और विष्णु से इन शहरों का सम्बन्ध है | यहा देवताओ ने कई लीलाए की है | इन सभी धार्मिक शहरो के नाम भारत के प्राचीन धर्म ग्रंथो में बड़े आदर के साथ लिए जाते है |

आइये जानते है भारत में वे कौनसे सबसे पवित्र और धार्मिक 7 नगर (शहर ) है |

1. अयोध्या :

राम जन्मभूमि अयोध्या

यह नगरी प्रभु श्री राम को जन्म देनी वाली सूर्यवंशी राजाओ की है | सप्त धार्मिक नगरो में इसे पहला स्थान दिया गया है | वेद तो इसे प्रभु की नगरिया बताते है | सरयू नदी के तट पर उत्तर प्रदेश में फैजाबाद जिले में है अयोध्या की राममय नगरिया |

पढ़े : हिन्दू धर्म की पौराणिक कहानियाँ

पढ़े : पूजा अर्चना से जुड़े धार्मिक आलेख

2. मथुरा :मथुरा कृष्ण जन्मभूमि

भगवान श्री कृष्ण ने अपना बाल्यकाल यही व्यतीत किया | उनकी शरारती और मन को छूने वाली बाल लीलायो की यह स्थली रहा है | यहा कण कण में कृष्णा की भक्ति की गंगा बहती है | इनकी पूजा के लिए बहुत सारे प्रसिद्ध मंदिर है |

3. हरिद्वार :

हरिद्वार

हरिद्वार

प्राचीन काल में हरिद्वार को  मायापुरी कहा जाता था | यहा गंगा का प्रसिद्ध मंदिर है जो गंगा के घाट हर के पैडी के पास बना हुआ है | यहा रोज संध्या को गंगा आरती का भव्य आयोजन किया जाता है जो देखने दूर दूर से भक्त आते है | यहा पंडित मरने वाले व्यक्तियों की शांति के लिए पूजा अर्चना करवाते है | पढ़े : हरिद्वार के दर्शनीय स्थल

4. काशी :

पुराणों में बताया गया है यह नगरी अमर है और भगवान शिव के त्रिशूल पर टिकी हुई है | जब प्रलय आएगी भगवन अपने त्रिशूल को उठा कर इस काशी  को बचा लेंगे | इस नगरी में मरने वाले व्यक्ति को मोक्ष प्राप्त होता है | यहा भगवान शिव काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग रूप में  भक्तो को दर्शन देते है |

5. कांची :

यह मंदिरों का शहर है जो तमिलनाडु में पड़ता है | काचीअम्पाठी और कांची इसी के नाम है | भगवान विष्णु और शिवजी के बड़े प्रसिद्ध मंदिर यहा स्थित  है | कामाक्षी अम्मा मन्दिर, वरदराज पेरूमल मंदिर ,  कुमारकोट्टम, कच्छपेश्वर मन्दिर, कैलाशनाथ मन्दिर, एकाम्बरनाथ मन्दिर यहा के मुख्य मंदिर है |

6. उज्जैन :

महाकाल की नगरी उज्जैन जो मोक्षदायिनी शिप्रा नदी के तट पर स्थित है | काशी के बाद इसे शिवधाम माना जाता है | यहा गोपाल मंदिर , हरसिद्धि माता का शक्तिपीठ , काल भैरव मंदिर , चार धाम मंदिर विख्यात है |

7. द्वारका :

भगवान ने महाभारत के युद्ध के बाद इसे अपनी नगरी बना लिए और अंत तक यही वास करने लग गये | द्वारकाधीश यही पर इनका नाम पड़ा | सागर के तट पर बनी द्वारका बहुत बार जल विलीन हुई है जिसके अवशेष आज भी दिखाई देते है | भारत के चार धामों में और सप्तपुरी दोनों में द्वारका का नाम आता है |

धर्म से जुड़े यह लेख भी जरुर पढ़े :

भगवान कृष्ण को यह पाँच चीजे अति प्रिय थी

हरिद्वार की गंगा आरती और घाट

भारत के द्वादश ज्योतिर्लिंग

आने वाले कुम्भ के मेले

इस मंदिर में पिण्ड दान की जगह शिवलिंग दान किये जाते है

इस मंदिर में होती है शिव की स्त्री रूप में पूजा

गर्दन से लहू बहने वाली माता का मंदिर

भैरव जयंती पर कैसे करे पूजा

Join Best Facebook Page of Hinduism Follow us on Twitter and Google Plus

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.