चमत्कारी कामाख्या ( कामिया ) सिंदूर का है खास महत्व

कामाख्या ( कामिया ) सिंदूर का महत्व

Kamiya Sindoor Importance माँ सती के सबसे जाग्रत शक्तिपीठो में से एक है कामाख्या शक्तिपीठ (Kamakhya Shaktipeeth ) जहा सती की योनी गिरी थी | यह मंदिर असम की राजधानी गुवाहाटी 8 किमी की दुरी पर नीलांचल पर्वत पर बना हुआ है |


इस मंदिर को तंत्र साधना का मुख्य पीठ बताया जाता है | इस मंदिर में माँ की मूर्ति की नही बल्कि  योनी रूपी पत्थर की पूजा की जाती है |

कामिया सिंदूर कामख्या मंदिर

कैसे प्राप्त होता है कामाख्या सिंदूर  :

How to Gain Kamakhya Sindoor : इस मंदिर का सबसे बड़ा चमत्कार यह है की हर साल 3 दिन के लिए इस मंदिर में लगी योनी मूर्ति से रजस्व होता है | यह कामाख्या का सिंदूर कहलाता है जो अनेको शक्तियों से युक्त होता है | 3 दिन के लिए यह मंदिर पूरी तरह बंद होता है | उसके बाद इस सिंदूर को भक्तो में बांटा जाता है | यह सिंदूर वशीकरण, जादू-टोना, गृह-कलेश, कारोबार में बाधा, विवाह या प्रेम की समस्या या दूसरी तरह की भूत-प्रेत बाधा की समस्याओं को दूर करता है |


कामख्या देवी का सिंदूर योनी से

इस सिंदूर को चांदी की डिब्बी में रखकर निचे दिए गये मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए | ऐसा करने से यह सिंदूर और भी अधिक जाग्रत हो जाता है |

कामाख्याये वरदे देवी नीलपावर्ता वासिनी! त्व देवी जगत माता योनिमुद्रे नमोस्तुते!!

इस सिंदूर में देवी माँ सती की कृपा रहती है तो आपकी सभी मनोकामनाओ की पूर्ति करने में सक्षम है |

कैसे करे इस मंत्र का प्रयोग

किसी कार्य की सिद्धि के लिए इस मंत्र को चुटकी में ले और फिर 11 या 21 बार निचे दिए मंत्र का जप करे

कामाख्याम कामसम्पन्ना कामेश्वरी हरप्रिया द्य

कमाना देहि में नित्य कामेश्वरी नमोस्तुते द्यद्य

फिर माँ कामाख्या से विनती करे की उक्त कार्य में आपको सफलता दिलाये |

Other Similar Posts

सुन्दर गुणवान और भाग्यशाली पत्नी पाने के लिए जपे यह दुर्गा मंत्र

इस मंदिर में देवी माँ करती है यहा अग्नि से स्नान

माँ गायत्री कौन है , हिन्दू धर्म में देवी का महत्व और परिचय

मैहर माता मंदिर शारदा देवी को समर्प्रित जहा आत्माए करती है श्रृंगार

चूड़ामणि देवी मंदिर – मान्यता है की इस मदिर में चोरी करने से होती है संतान प्राप्ति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.