शनि महाराज की कथा – कैसे बने शनि नवग्रहों के राजा

Story Of Shanidev – How He Become King of Navgrah महर्षि कश्यप ने शनि स्त्रोत की रचना की थी जिसमे भगवान शनिदेव को सभी ग्रहों का राजा बताया था | हालाकि कई जगह नवग्रहों में भगवान सूर्य को राजा बताया गया है | आज हम एक पौराणिक कथा के माध्यम से जानेंगे की कैसे भगवान शनि को राजा का पद […]

Read more

मकर संक्रांति का महत्व

सूर्य का मकर राशि में प्रवेश मकर संक्रान्ति रुप में जाना जाता है। भारत में अलग अलग भागो में इसे अलग अलग नाम से पुकारा जाता है | गुजरात में ‘उत्तरायण’ , पंजाब और हरियाणा में लोहडी पर्व ,उतराखंड में उतरायणी और केरल में पोंगल | मकर संक्रांति की महिमा इसी दिन चमत्कारी माँ गंगा नदी का धरती पर अवतरण हुआ था […]

Read more

भगवान सूर्य की महिमा

हिन्दू धर्म में विविधता है , यहा देवी देवता भी बहुत से है | इन्ही में से एक देवता है सूर्य देव जो साक्षात दर्शन देते है और व्यक्ति , पेड़ पौधो और जानवरो को जीवन प्रदान करते है | अन्धकार को दूर करने वाले और रोशनी देने वाले सूर्य देवता के बिना किसी का भी जीवन अपूर्ण है | […]

Read more

सूर्य नमस्कार से होने वाले फायदे

सूर्य नमस्कार भारत के योग विज्ञान का मुख्य आसन है जो शरीर को बलिष्ठ रखता है , स्वास्थ्य लाभ की प्राप्ति करवाता है | भगवान सूर्य की शरीर के मुख्य अंगो से शारीरिक वंदना करना भी सूर्य नमस्कार है | यह त्रेता युग से कलियुग तक भारतीय लोगो के द्वारा श्रद्दा भाव से किया जा रहा है जिससे वे शारीरिक […]

Read more

भगवान सूर्य के 21 नाम

भगवान सूर्य के ये 21 नाम सहस्त्र नामो के बराबर फल देने की क्षमता रखता है | यह नाम इतने पवित्र शक्तिशाली और मनोरथ पूर्ण करने वाले माने गये है | पहले हमने आपको सूर्य देव के 16 नाम बताये थे , अब हम आपके लिए यहा सूर्यदेव के 21 नामो को लेके आये है | सुबह सुबह हमें नहा […]

Read more

सूर्य को जल चढाने (अर्घ्य ) का मंत्र

यदि आप सनातन धर्म पर चलने वाले है तो उसमे बताये गये पांच देवो में से एक भगवान सूर्य को भी परम स्थान प्राप्त है | सूर्य भगवान साक्षात् दिखाई देने वाले देवता है और जीवन के लिए अत्यंत जरुरी है | सुबह सुबह उठाकर नहाकर साफ़ और पवित्र पानी से भगवान सूर्य को अर्ध्य देना अति पावन और मंगलकारी […]

Read more

छठ पूजा

छठ पूजा की महिमा

क्या होती है छठ पूजा और जाने एके पीछे की कथा : कार्तिक शुक्ल की षष्टी तिथि को सुख-समृद्धि, गुणवान पुत्र प्राप्ति, आरोग्यता, वा पुत्र को दीर्घायु रखने के लिए षष्टी का पर्व  Chhath Puja  मनाया जाता है। इसमें छठ देवी और भगवान सूर्य की आराधना  करते हुए उपवास किया जाता है। छठ पूजा को लेकर कई पौराणिक , ऐतहासिक […]

Read more

भगवान सूर्य के 16 दिव्य नाम

भगवान सूर्य के दिव्य 16 नाम

सूर्यदेव के सौलह मुख्य नाम : हमारे सनातन धर्म में सौलह कलाओ को महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है | ईश्वर की सौलह कलाए मानी गयी है , श्री कृष्ण इन कलाओ में निपूर्ण है | यदि सूर्य देवता की बात करे तो यह इन सभी 16 कलाओ से युक्त परब्रह्म है | इसी आधार पर इनके चमत्कारी 16 नाम दिए […]

Read more

भगवान सूर्य देव आरती

सूर्य की आरती

भगवान सूर्य जो कश्यप ऋषि के पुत्र है और अदिति उनकी माता है | जो समस्त संसार को नित्य प्रकाश प्रदान करने वाले है | जिनकी प्रशंसा में वेद पुराण भरे पड़े है | ऐसे भगवान की आरती स्तुति करके हमें  नित्य उनका आशीष लेना चाहिए | सूर्य आरती जय कश्यप नंदन जय कश्यप नन्दन, स्वामी जय कश्यप नन्दन। त्रिभुवन […]

Read more

उड़ीसा में कोणार्क के सूर्य मंदिर की महिमा

कोर्णाक का सूर्य मंदिर

कोणार्क  का सूर्य मंदिर   सूर्य देवता को समर्पित यह मंदिर उड़ीसा राज्य के पवित्र शहर पुरी के पास स्थित है जिसे कोर्णाक मंदिर के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर का निर्माण राजा नरसिंह देव ने 13वीं शताब्दी में करवाया था।  मंदिर लाल बलुआ और ग्रेनाईट के पत्थरो से बना है | यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर में शामिल भी किया है […]

Read more
1 2