रावण राम के युद्ध में किसने दिया श्री राम को अपना रथ

रावण राम के युद्ध में किसने दिया श्री राम को अपना रथ रामायण एक ऐसा महा ग्रंथ है, जिसके हर प्रसंग को राम भक्त जानने के जिज्ञासु होते है । रामायण कई राम भक्तो ने लिखी है जिसमे सबसे पहली रामायण स्वयं हनुमान ने लिखी थी | वाल्मीकि जी की रामायण जन जन तक पहुंचे , इस उद्देस्य से उन्होंने […]

Read more

देवताओ के कहने पर सरस्वती ने दिलवाया राम को वनवास

देवताओं के इस छल की वजह से श्रीराम को जाना पड़ा था वनवास हमने पहले एक लेख में आप सभी भागवत प्रेमियों को यह बताया था की विष्णु के अवतार रूप में श्री राम का जन्म और वनवास नारद मुनि के श्राप के कारण हुआ था | पुराणों और धर्म ग्रंथो में जो भी लीलाए रची गयी है उनके पीछे […]

Read more

राम भक्त हनुमान को क्यों लगा भरत का बाण

भरत ने अपने बाण से हनुमान को क्यों घायल कर दिया था श्रीरामचरितमानस के लंकाकाण्ड से  मेघनाथ के एक दिव्य वार से लक्ष्मण बेहोश होकर धरती पर गिर पड़े और उनके प्राण संकट में आ गये | लंका के ही एक वैद ने लक्ष्मण को प्राण देने वाली संजीवनी बूटी के बारे में बताया । यह कार्य हनुमान को दिया […]

Read more

चार लाइन में समाई है सम्पूर्ण रामायण पाठ का सार – एक श्लोकी रामायण

एक श्लोकी रामायण में सम्पूर्ण रामायण पाठ का सार भगवान राम को समर्पित दो ग्रंथ मुख्यतः प्रसिद्ध है एक तुलसीदास द्वारा रचित ‘श्री रामचरित मानस’ और दूसरा वाल्मीकि कृत ‘रामायण’। इनके अलावा भी कुछ अन्य ग्रन्थ लिखे गए है पर इन सब में वाल्मीकि कृत रामायण को सबसे सटीक और प्रामाणिक माना जाता है। यह भी मान्यता है की सबसे पहली […]

Read more

हनुमान जी के पुत्र मकरध्वज के जन्म की कथा

हनुमान पुत्र मकरधवज की कथा हनुमान जी रामायण के मुख्य पात्रो में से एक है | शास्त्रों में इन्हे अजर अमर के साथ साथ अविवाहित बताया गया है | फिर भी बहुत कम लोगो को यह भी पता है की हनुमान जी का एक विवाह भी हुआ था और उनके एक पुत्र भी था | आइये जाने हनुमान के विवाह […]

Read more

रावण के माता पिता , भाई बहिन और परिवार

कौन था रावण ? और उसका परिवार हम दशहरा (विजयादशमी ) को विजय दिवस के रूप में मनाते है | इसी दिन त्रेता में भगवान विष्णु के अवतार श्री राम ने लंकापति रावण और उसके साथ देने वाले योध्याओ का संहार किया था | ब्रह्मा जी के पुत्र मुनिवर पुलस्त्य हुए और उनका पुत्र था विश्रवाका | विश्रवाका जी की […]

Read more

आंजन धाम जहा दिया माँ अंजनी ने हनुमान को जन्म

आंजन धाम में हुआ था हनुमान का जन्म मान्यता है की यही वह जगह है जहा  माँ अंजनी ने हनुमान जी को  जन्म दिया था  – यह जगह  झारखंड के गुमला जिले के उत्तरी क्षेत्र में अवस्थित आंजन ग्राम से जुड़ा हुआ है। यहा पहाड़ की चोटी पर एक गुफा में मंदिर बना हुआ है |  हनुमान की माँ के […]

Read more

विश्व का एकमात्र उल्टे हनुमान जी का मंदिर

उल्टे हनुमान जी का मंदिर विश्‍व में हनुमान जी के हजारों मंदिर हैं और उन सभी की अपनी अपनी कहानी है पर आपको जानकर आश्चर्य होगा की एक बालाजी महाराज का ऐसा मंदिर भी है जहा हनुमान उल्टे होकर दर्शन देते है | शायद यह विश्व का एकमात्र ऐसा मंदिर है | पढ़े : कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न […]

Read more

क्यों हनुमान ने नही मारा रावण को

रामायण आप सभी ने देखी होगी या पढ़ी होगी | रामायण त्रेतायुग में विष्णु के अवतार श्री राम , सीता , लक्ष्मण, रावण  और हनुमान पर केन्द्रित थी | जहा रामचंद्र के सहायक शिव के अवतारी श्री पवनपुत्र हनुमान थे | एक सवाल सभी के मन में आता है की जब हनुमान जी सीता माता की लंका में खोज कर […]

Read more

सबसे पहली रामायण हनुमान ने लिखी पर सागर में डुबो दी ? क्यों

प्रभु श्री राम के जीवन पर अनेकों रामायण लिखी गई है जिनमे प्रमुख है वाल्मीकि रामायण, श्री रामचरितमानस, कबंद रामायण (कबंद एक राक्षस का नाम था), अद्भुत रामायण और आनंद रामायण। लेकिन क्या आप जानते है अपने आराध्य प्रभु श्री राम को समर्पित एक रामायण स्वयं  महाशक्तिशाली हनुमान जी ने लिखी थी जो ‘हनुमद रामायण’ के नाम से जानी जाती […]

Read more
1 2 3