आंजन धाम जहा दिया माँ अंजनी ने हनुमान को जन्म

आंजन धाम में हुआ था हनुमान का जन्म मान्यता है की यही वह जगह है जहा  माँ अंजनी ने हनुमान जी को  जन्म दिया था  – यह जगह  झारखंड के गुमला जिले के उत्तरी क्षेत्र में अवस्थित आंजन ग्राम से जुड़ा हुआ है। यहा पहाड़ की चोटी पर एक गुफा में मंदिर बना हुआ है |  हनुमान की माँ के […]

Read more

विश्व का एकमात्र उल्टे हनुमान जी का मंदिर

उल्टे हनुमान जी का मंदिर विश्‍व में हनुमान जी के हजारों मंदिर हैं और उन सभी की अपनी अपनी कहानी है पर आपको जानकर आश्चर्य होगा की एक बालाजी महाराज का ऐसा मंदिर भी है जहा हनुमान उल्टे होकर दर्शन देते है | शायद यह विश्व का एकमात्र ऐसा मंदिर है | पढ़े : कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न […]

Read more

क्यों हनुमान ने नही मारा रावण को

रामायण आप सभी ने देखी होगी या पढ़ी होगी | रामायण त्रेतायुग में विष्णु के अवतार श्री राम , सीता , लक्ष्मण, रावण  और हनुमान पर केन्द्रित थी | जहा रामचंद्र के सहायक शिव के अवतारी श्री पवनपुत्र हनुमान थे | एक सवाल सभी के मन में आता है की जब हनुमान जी सीता माता की लंका में खोज कर […]

Read more

सबसे पहली रामायण हनुमान ने लिखी पर सागर में डुबो दी ? क्यों

प्रभु श्री राम के जीवन पर अनेकों रामायण लिखी गई है जिनमे प्रमुख है वाल्मीकि रामायण, श्री रामचरितमानस, कबंद रामायण (कबंद एक राक्षस का नाम था), अद्भुत रामायण और आनंद रामायण। लेकिन क्या आप जानते है अपने आराध्य प्रभु श्री राम को समर्पित एक रामायण स्वयं  महाशक्तिशाली हनुमान जी ने लिखी थी जो ‘हनुमद रामायण’ के नाम से जानी जाती […]

Read more

हनुमान जी के असंभव काम

हनुमान जी के असंभव काम यदि दुनिया में सबसे बड़े सेवक का नाम पूछेंगे तो मैं आपको हनुमान जी का ही नाम लूँगा | इन्होने अपना जीवन अपने प्रभु श्री राम की सेवा में लगा दिया है | ये अष्ट चिरंजीवी में से एक है जो आज भी श्री राम की भक्ति में दुबे रहते है | रामायण में इन्होने […]

Read more

द्रोणागिरि – यहां वर्जित है हनुमान जी की पूजा

हम सब जानते है हनुमान जी हिन्दुओं के प्रमुख आराध्य देवों में से एक है, और सम्पूर्ण भारत में इनकी पूजा की जाती है। लेकिन बहुत काम लोग जानते है की हमारे भारत में ही एक जगह ऐसी है जहां हनुमान जी की पूजा नहीं की जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि यहाँ के रहवासी हनुमान जी द्वारा किए गए एक […]

Read more

कैसे बने हनुमान जी इतने महाशक्तिशाली

महावीर हनुमान ऐसे बने महाशक्तिशाली वाल्मीकि रामायण के अनुसार, बाल्यकाल में जब हनुमान सूर्यदेव को फल समझकर खाने को दौड़े और सूर्य को निगल लिया तो हनुमान से अपरिचित तो घबराकर देवराज इंद्र ने हनुमानजी पर वज्र का वार किया। वज्र के प्रहार से हनुमान निश्तेज हो गए। यह देखकर वायुदेव बहुत क्रोधित हुए और उन्होंने समस्त संसार में वायु […]

Read more

दशहरा (विजयादशमी) शुभकामना सन्देश message

हमने पहले आपको बताया था की विजयदशमी का त्यौहार असत्य पर सत्य की जीत का प्रतिक है | पढ़िए दशहरा की पौराणिक कथा और महत्व  | इस दिन रावण के पुतले जलाये जाते है | अपनों को शुभकामना सन्देश दे दशहरे पर | पढ़े : दीपावली पर लक्ष्मी गणेश पूजा विधि  दशहरा विजयादशमी शुभकामना सन्देश Message Quote अधर्म पर धर्म […]

Read more

क्यों मनाते हैं दशहरा ? पौराणिक महत्व और महिमा

अधर्म पर धर्म की जीत का प्रतीक है दशहरा त्यौहार जिसे विजयदशमी भी कहा जाता है  | हमारे शास्त्र और पुराणों में इस पर्व का महत्व और महिमा का गुणगान किया गया है | इसे असत्य पर जीत के रूप में मनाया जाता है | इसे सम्पूर्ण भारत में उत्साह और धार्मिक निष्ठा के साथ मनाया जाता है। दशहरा  के […]

Read more

दीपावली का पौराणिक महत्व और कहानी

दीपावली का पौराणिक महत्व और कहानी भारत में हिन्दू धर्म के लोगो के लिए सबसे बड़ा त्यौहार दीपावली का माना जाता है | दीपावली दीपो को प्रज्वलित कर रोशनी करने का त्यौहार है | यह सकारात्मक उर्जा वाली रोशनी  नकारात्मक उर्जा वाले अंधकार को दूर करने वाली है | दीपवाली की रात्रि सबसे ज्यादा रोशन होती है | हर घर […]

Read more
1 2