कैसे हुआ माँ काली का जन्म जाने कथा

कैसे हुआ महाकाली का अवतार Incaration of Goddess Kali लिंग पुराण में आये प्रसंग के अनुसारएक बार एक बहुत ही शक्तिहाली दारुण नाम का असुर हुआ | उसके अत्याचार से सभी लोक कांपने लगे | उसे यह वरदान प्राप्त था की वो किसी स्त्री के हाथो ही मारा जा सकता है | देवी देवता ब्रह्मा जी के पास जाकर विनती […]

Read more

देवताओ के कहने पर सरस्वती ने दिलवाया राम को वनवास

देवताओं के इस छल की वजह से श्रीराम को जाना पड़ा था वनवास हमने पहले एक लेख में आप सभी भागवत प्रेमियों को यह बताया था की विष्णु के अवतार रूप में श्री राम का जन्म और वनवास नारद मुनि के श्राप के कारण हुआ था | पुराणों और धर्म ग्रंथो में जो भी लीलाए रची गयी है उनके पीछे […]

Read more

राम भक्त हनुमान को क्यों लगा भरत का बाण

भरत ने अपने बाण से हनुमान को क्यों घायल कर दिया था श्रीरामचरितमानस के लंकाकाण्ड से  मेघनाथ के एक दिव्य वार से लक्ष्मण बेहोश होकर धरती पर गिर पड़े और उनके प्राण संकट में आ गये | लंका के ही एक वैद ने लक्ष्मण को प्राण देने वाली संजीवनी बूटी के बारे में बताया । यह कार्य हनुमान को दिया […]

Read more

अक्षय नवमी पर आंवले के पेड़ की पूजा महत्‍व व व्रत कथा

आंवले के पेड़ की पूजा का महत्‍व कार्तिक माह शुक्‍ल पक्ष की अक्षय नवमी को आंवला नवमी भी कहते हैं। इस खास द‍िन पर आंवले के पेड़ की पूजा की जाती है।  इस व्रत का हिन्दू धर्म में अत्यंत महत्व और महिमा है | शास्‍त्रों के मुताबि‍क नवमी से लेकर पूर्णिमा तक भगवान विष्णु का इस पवित्र पेड़ आवंले  पर […]

Read more

द्रोपदी के पांच पति कैसे बने पांच पांडव

क्यों द्रोपदी के पांच पति हुए हमारे समाज और धर्म में बहुपति प्रथा लोक और धर्म के विरुद्ध है | पर द्वापर में महाभारत में बताया गया है की द्रोपदी का विवाह पांच पांडवो से हुआ था | इस विवाह के पीछे माँ के वचन और शिव शंकर का आशीर्वाद था | शिव का आशीर्वाद शिव स्वरुप सहाय की पुस्तक […]

Read more

हनुमान जी के पुत्र मकरध्वज के जन्म की कथा

हनुमान पुत्र मकरधवज की कथा हनुमान जी रामायण के मुख्य पात्रो में से एक है | शास्त्रों में इन्हे अजर अमर के साथ साथ अविवाहित बताया गया है | फिर भी बहुत कम लोगो को यह भी पता है की हनुमान जी का एक विवाह भी हुआ था और उनके एक पुत्र भी था | आइये जाने हनुमान के विवाह […]

Read more

इसलिए भगवान शंकर अपने शीश पर चंद्र को धारण किए हैं!

क्यों शिव के शीश पर चंद्रमा दिखाई देते है शिव का रूप सबसे अलग है | भस्म धारण करने वाले शिव , लम्बी जटाओ में गंगा का वास , नागो से सजे हुए भगवान शिव की की हर छवि में हर मूर्ति में उनकी जटाओ में चंद्रमा दिखाई देते है | क्यों त्रिपुरारी शंकर ने अपने शीश पर चंद्र को […]

Read more

वृंदावन का गोपेश्वर मंदिर – भगवान शिव को बनना पड़ा गोपी

वृंदावन के गोपेश्वर मंदिर में शिव है गोपी विश्व का एकमात्र ऐसा शिव मंदिर जहा शिव की पूजा गोपी के रूप में की जाती है | यह मंदिर वृंदावन में गोपेश्वर मंदिर के नाम से प्रसिद्ध है | इसका एक अन्य नाम गोपीनाथ मंदिर भी है | यह शिव कृष्ण की रास में शामिल होने के लिए गोपी बन कर […]

Read more

भगवान शिव के गले में नर मुंड माला का रहस्य

क्यों पहने हुए है भगवान शिव अपने गले में  मुंड माला शिव इस जगत के संहारक है | इसी कारण इन्हे महाकाल , कालो का काल आदि नामो से भी संबोधित किया जाता है | हमने पहले के लेख में बताया था की शिव और शिवलिंग की पूजा भस्म से होती है जिसका कारण है की भस्म जीव की अंतिम […]

Read more

भगवान विष्णु ने अपने भक्तो अच्छे के लिए किये मुख्य 5 छल

भगवान विष्णु के मुख्य छल और कपट जगत के पालनहार है श्री नारायण हरि विष्णु | जब भगवान कृष्ण छलिया है तो इन सभी अवतारों को धारण करने वाले विष्णु भगवान भी छल तो करेंगे ही | पुराणों में बताया गया है उन्होंने कई बार देवताओ को उभारने के लिए और लोक हित में छल और कपट का सहारा लिया […]

Read more
1 2 3 9