हनुमान रक्षा मंत्र के जप से बनेगा सुरक्षा कवच

हनुमान रक्षा मंत्र के जप से बनेगा सुरक्षा कवच भक्त हनुमान जी ने श्रीराम परम भक्त है जो की विष्णु भगवान के अवतार थे | वे स्वयं शिवजी के रूद्र अवतार है | उनकी पूजा से शिव और विष्णु दोनों की कृपा प्राप्त होती है | हनुमान जी को आठ चिरंजीवी में से एक माना जाता है | इनके बारे […]

Read more

राम भक्त हनुमान को क्यों लगा भरत का बाण

भरत ने अपने बाण से हनुमान को क्यों घायल कर दिया था श्रीरामचरितमानस के लंकाकाण्ड से  मेघनाथ के एक दिव्य वार से लक्ष्मण बेहोश होकर धरती पर गिर पड़े और उनके प्राण संकट में आ गये | लंका के ही एक वैद ने लक्ष्मण को प्राण देने वाली संजीवनी बूटी के बारे में बताया । यह कार्य हनुमान को दिया […]

Read more

यहा हनुमान करते है फैसला , पुलिस और जज नही- बजरंगी पंचायत मंदिर

धर्म हमें अच्छा बुरा सिखाता है | हम हमारे कर्म अच्छे और बुरे फल की प्राप्ति के अनुसार करते है | हमारा पूर्ण विश्वास होता है की हमारे किये गये कर्मो का लेखा जोखा मृत्यु के बाद हमें देना होता है | एक भी मान्यता है की व्यक्ति को अच्छे बुरे कर्मो का फल इस जीवन में ही भोगना होता […]

Read more

उज्जैन के खेडापति हनुमान के चमत्कारी कुण्ड में स्नान से दूर होते असाध्य रोग

उज्जैन के खेडापति हनुमान का  चमत्कारी कुण्ड अवंतिका नगर उज्जैन के सर्वाधिक प्राचीन मंदिरों में से एक श्री खेड़ापति हनुमान मंदिर आगर रोड उज्जैन पर स्थित है| यह उज्जैन से 105 किमी की दुरी पर स्थित है | यह ४०० साल पुराना बताया जाता है | यहा हनुमान जी की प्रतिमा को श्री श्री स्वामी कृपानिवास रसिका-चार्य महाराज ने अपने […]

Read more

हनुमान जी के पुत्र मकरध्वज के जन्म की कथा

हनुमान पुत्र मकरधवज की कथा हनुमान जी रामायण के मुख्य पात्रो में से एक है | शास्त्रों में इन्हे अजर अमर के साथ साथ अविवाहित बताया गया है | फिर भी बहुत कम लोगो को यह भी पता है की हनुमान जी का एक विवाह भी हुआ था और उनके एक पुत्र भी था | आइये जाने हनुमान के विवाह […]

Read more

जब हनुमान जी ने सत्यभामा, गरुड़ और सुदर्शन चक्र का घमण्ड चूर किया

हनुमान जी की पौराणिक कथा जिसमे उन्होंने दूर किया सुदर्शन गरुड़ और सत्यभामा का घमंड दूर एक बार सुदर्शन चक्र को स्वयं की शक्ति पर अभिमान हो गया था और भगवान श्री कृष्ण ने उनके अभिमान को दूर करने के लिए श्री हनुमान जी की सहायता ली थी। सुदर्शन चक्र को यह अभिमान हो गया था कि उसने इंद्र के […]

Read more

आंजन धाम जहा दिया माँ अंजनी ने हनुमान को जन्म

आंजन धाम में हुआ था हनुमान का जन्म मान्यता है की यही वह जगह है जहा  माँ अंजनी ने हनुमान जी को  जन्म दिया था  – यह जगह  झारखंड के गुमला जिले के उत्तरी क्षेत्र में अवस्थित आंजन ग्राम से जुड़ा हुआ है। यहा पहाड़ की चोटी पर एक गुफा में मंदिर बना हुआ है |  हनुमान की माँ के […]

Read more

विश्व का एकमात्र उल्टे हनुमान जी का मंदिर

उल्टे हनुमान जी का मंदिर विश्‍व में हनुमान जी के हजारों मंदिर हैं और उन सभी की अपनी अपनी कहानी है पर आपको जानकर आश्चर्य होगा की एक बालाजी महाराज का ऐसा मंदिर भी है जहा हनुमान उल्टे होकर दर्शन देते है | शायद यह विश्व का एकमात्र ऐसा मंदिर है | पढ़े : कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न […]

Read more

क्यों हनुमान ने नही मारा रावण को

रामायण आप सभी ने देखी होगी या पढ़ी होगी | रामायण त्रेतायुग में विष्णु के अवतार श्री राम , सीता , लक्ष्मण, रावण  और हनुमान पर केन्द्रित थी | जहा रामचंद्र के सहायक शिव के अवतारी श्री पवनपुत्र हनुमान थे | एक सवाल सभी के मन में आता है की जब हनुमान जी सीता माता की लंका में खोज कर […]

Read more

सबसे पहली रामायण हनुमान ने लिखी पर सागर में डुबो दी ? क्यों

प्रभु श्री राम के जीवन पर अनेकों रामायण लिखी गई है जिनमे प्रमुख है वाल्मीकि रामायण, श्री रामचरितमानस, कबंद रामायण (कबंद एक राक्षस का नाम था), अद्भुत रामायण और आनंद रामायण। लेकिन क्या आप जानते है अपने आराध्य प्रभु श्री राम को समर्पित एक रामायण स्वयं  महाशक्तिशाली हनुमान जी ने लिखी थी जो ‘हनुमद रामायण’ के नाम से जानी जाती […]

Read more
1 2 3 5