शांति पाठ मंत्र हिंदी अर्थ सहित

शांति पाठ मंत्र

Shanti Paath Mantra ( Mantra For Peace ) शांति पाठ के मंत्र का उच्चारण या जप करके हम हमारे आस पास के वातावरण के साथ साथ समस्त पृथ्वी , वनस्पति , परब्रहम सत्ता , सम्पूर्ण ब्रहमांड यहा तक की कण कण में शांति बने रहने का ईश्वर से निवेदन करते है | यह यजुर्वेद में विस्तार से बताया गया है […]

Read more

गंगासागर तीर्थ स्थल की यात्रा

गंगा का जब भारत के पूर्वी सागर से मिलन होता है वो स्थल गंगा सागर के नाम से जानी जाती है | इसे गंगा सागर संगम के नाम से भी जाना जाता है | यह महा नदी बंगाल की खाड़ी से मिलती है |  यह हिन्दूओ के मुख्य तीर्थ स्थलों में से एक है | यह एक 300 वर्ग किमी […]

Read more

हिन्दू धाम में मुख्य पाँच (पञ्च ) देवता

हमारे हिन्दू सनातन धर्म में पांच मुख्य देवी देवता बताये गये है | किसी भी धार्मिक कार्य को विध्न रहित सम्पन्न कराने के लिए इन सभी पञ्चदेवो की पूजा की जाती है | शास्त्रों के अनुसार कौनसे है पांच देवता हमारे धार्मिक शास्त्रों के अनुसार मुख्य पांच देवी देवता जिनके नाम है भगवान गणेशजी, हरि विष्णु जी, शिव शंकर , […]

Read more

गाय के बारे में 10 चौकाने वाली बाते

गौ माँ की जितनी महिमा बताई जाये उतनी कम है | आप किसी भी मंदिर में चले जाये आपको गिनती के देवी देवताओ की मूर्तियाँ दिखाई देगी पर इस संसार में गाय माँ ऐसी प्राणी है जिसमे मुख्य सभी देवी देवताओ का निवास है | अब आप ही बताये की इससे अधिक पवित्र और सनातनी प्राणी ओर कौन हो सकता […]

Read more

शिष्य के लिए गुरु की महिमा

गुरु अर्थात ज्ञान का वो प्रकाश पूंज जो शिष्य के अन्धकार रूपी अज्ञान को समाप्त करके उसे और सार्थक मनुष्य बनाता है | संत कबीर ने बड़े ही सुन्दर दोहे में गुरु शिष्य का सम्बन्ध बताया है | सनातन धर्म में गुरु शिष्य की परम्परा अनंत काल पूर्व से चली आ रही है | रामायण , महाभारत और कलियुग काल […]

Read more

हरियाली अमावस्या महत्व

सावन मास में आने वाली कृष्ण पक्ष की अमावस्या को हरियाली अमावस्या के नाम से जाना जाता है | यह प्रकृति के सौन्दर्य को दर्शाता है | श्रावण के माह में अच्छी वर्षा से जगह जगह हरियाली होती है | इसमे पर्यावरण को धन्यवाद देने के गाँवों में उत्सव मनाया जाता है | हमारे धर्म और संस्कृति में पर्यावरण संरक्षण […]

Read more

नाग पंचमी का महत्त्व और पूजा विधि

कब आती है नाग पंचमी और जाने इसकी महिमा जैसा की नाम से ही पता चल रहा है यह पंचमी का दिन जब होती है नागो की पूजा |  सावन मास में शुक्ल पंचमी तिथि को मनाया जाता है | इस दिन कई शिवालयो में शिवलिंग का श्रंगार नागो से किया जाता है | भक्त लोग इन सर्पो को दूध […]

Read more

किन बातो से पता चलता है की दैवीय शक्ति आपके पास है

ईश्वर की भक्ति , अच्छे कर्म , पूजा पाठ , मंत्रो के विधि पूर्वक जप  और साधना आदि के द्वारा हम ईश्वर की कृपा के पात्र बनते है |ईश्वर का अहसास भी होने लगता है | यह दैवीय शक्तियां तरंगो के माध्यम से या शरीर में कम्पन के द्वारा हमें उनके होने का अहसास कराती है | जब भी मंत्रो […]

Read more

पूजा में आचमन का महत्त्व

क्यों पूजा से पहले  आचमन  किया जाता है ? सनातन धर्म में किसी भी शुभ पूजा या कर्मकांड से पूर्व शरीर को आतंरिक और बाहरी रूप से जल के छींटे देकर शुद्ध करने की क्रिया को आचमन कहा जाता है | आचमन के समय जो थोडा सा जल हम ग्रहण करते है वो ह्रदय के पास आज्ञा चक्र तक ही […]

Read more

मंदिर में जाने पर क्यों बजाते है घंटी

मंदिर में घंटी बजाना

हमारा धर्म सनातन वैदिक काल से है और इस महान धर्म में हमारे ऋषि मुनियों ने कुछ ऐसी परम्पराए बना दी है जो वैज्ञानिक और धार्मिक दोनों ही नजरिये से शत प्रतिशत खरी उठरती है | इस धर्म में गूढ़ रहस्य छिपे हुए है जिसका जब ज्ञान व्यक्ति को होने लगता है तो उसकी आस्था और विश्वास अत्यंत बढ़ जाता […]

Read more
1 2 3 12