मकर सक्रांति के लिए पवित्र स्नान के लिए धार्मिक तीर्थ स्थान

मकर संक्रांति का पर्व दान , स्नान और तप का सबसे बड़ा दिन माना गया है | कलियुग में  इस दिन क्या गया धर्म कई यज्ञो के लिए बराबर फल की प्राप्ति करवाता है | इस दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है | मकर संक्राति के दिन सूर्य अपनी दिशा बदलकर उत्तर की तरफ झुक जाता है | […]

Read more

गोदावरी नदी का पौराणिक महत्व और अवतरण कथा

भारत की संस्कृति में साधू संतो , देवी देवताओ के साथ प्राकृतिक चीजो का भी बहुत पौराणिक महत्व रहा है | हमारे शास्त्रों में इनके लिए कई धार्मिक प्रसंग आये है | भारत की पवित्र नदियाँ , भारत के धार्मिक पर्वत भी अपने प्रसंगों और कथाओ के कारण पूजनीय रहे है | आज इसी सन्दर्भ में हम आपको गोदावरी नदी […]

Read more

एकाक्षी नारियल क्या होता है और इससे लक्ष्मी जी का क्या सम्बन्ध है ?

नारियल को श्री फल कहा जाता है , जहा श्री का अर्थ है लक्ष्मी | अर्थात नारियल देवी लक्ष्मी को अत्यंत प्रिय है | यही कारण है कि हिन्दू धर्म में पूजा पाठ में नारियल को जरुर सम्मिलित किया जाता है | श्री फल के साथ की गयी पूजा व्यक्ति को समस्त सुख, ऐश्वर्य प्रदान करती है। पढ़े : श्रीफल […]

Read more

गरुड़ पुराण के अनुसार रेप करने वाले को ऐसी सजा दी जाये तो रेप करने वाली की रूह कांप जाएगी |

भारत में बलात्कार की घटनाये लगातार बढ़ रही है | रेप करने वालो ने नवजात बच्चियों के साथ साथ वृद्ध बूढी माओ तक को नही छोड़ा | अपने हवास की आग में वे अंधे और दानव तुल्य होकर अक्षम्य कुक्रर्म कर बैठते है | अपने आनंद की पराकाष्टा को ओर बढ़ाने के लिए वे अंत में उस पीडिता को जिन्दा […]

Read more

पंचामृत क्या होता है और कैसे बनता है , इसका स्नान मंत्र क्या है जाने

Panchamrit Kya Hota hai ? Ese Kaise Banate Hai ? दोस्तों आपने चरणामृत और पंचामृत के बारे में जरुर सुन रखा होगा , पर हम इसे लेकर थोड़े से कंफ्यूज होते है | तो आपने किसी भी तरह के संदेह को दूर करने के लिए यह पोस्ट लिख रहे है | दोस्तों पंचामृत शब्द पञ्च +अमृत से मिलकर बना है […]

Read more

चैत्र मास महत्व और इस मास में आने वाले पर्व और त्योहार

Importance of First Month of Indian Calendar Chaitra Maas and Festivals during this period . हिन्दू पंचाग का पहला मास चैत्र का ही है क्योकि इसी मास से शुभता और उर्जा आरम्भ होती है  | इसका सम्बन्ध चित्रा नक्षत्र से होने से इसका नाम चैत्र रखा गया है | शास्त्रों के अनुसार ब्रह्माजी ने चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से ही सृष्टि […]

Read more

जानिए, क्यों धारण करते हैं शिव त्रिशूल?

Why does lord shiva hold a trident (trishul) . शास्त्रों और पुराणों में सबसे सरल महादेव को बताया गया है और इनसे जुड़े कई ऐसे राज है जिनका ज्ञान किसी को भी सही सही नही है | भगवान शिव से जुड़ी कई रोचक बाते ,इन्हे सभी से अलग दिखाती है | इनसे जुड़ी हर वस्तु का बहुत बड़ा महत्व और […]

Read more

तो इस वजह से शिवजी के भक्त नंदी के कानों में कहते हैं अपनी मनोकामना

Whispering in the Ears of Shiva’s Nandi – What Significance behind this . सभी देवी देवताओ में सबसे अलग भोलेनाथ है जो अपनी घोर तपस्या में लीन रहते है | वे सादा जीवन भस्म से श्रंगार करने वाले महादेव है | सबसे जल्दी प्रसन्न होकर औगढ़ दानी अपने भक्तो को कुछ भी दे देते है | इनके महान गणों में […]

Read more

फाल्गुन मास का धार्मिक और वैज्ञानिक महत्व?

Falgun Month Importance , Fast and Festivals during this period. हिन्दू पंचांग का अंतिम मास  फाल्गुन का है | इस महीने  की पूनम को फाल्गुनी नक्षत्र होने के कारण इस महीने का नामकरण फाल्गुन रखा गया है | यह मौज मस्ती और उमंग का महिना है जिसमे शिवरात्रि , होली और खाटू श्याम जी का फाल्गुन मेला भरता है | […]

Read more

भागवत गीता : भूलकर भी कभी इन 5 के बारे में बुरा ना सोचें, वरना होगा विनाश

Geeta Ke Anusar Kinka Kabhi Bhi Apman Nhi Karna Chahiye : धर्म ग्रन्थ जीवन की सही और सकारात्मक राह दिखाने वाले होते है | यह ज्ञान से परिपूर्ण होते है जिनका हम सभी को अनुकरण करना चाहिए | इनके बताये गये पद चिन्हों पर चलकर हम यह जीवन तो क्या आने वाले सभी जीवन या मोक्ष प्राप्त कर सकते है […]

Read more
1 2 3 22