जगन्नाथपूरी रथयात्रा से जुडी रोचक बाते

भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा की प्रतिमाओं को तीन अलग-अलग दिव्य रथों में नगर भ्रमण करवाया जाता है | यह रथ यात्रा दो किमी की दुरी पर गुंडिचा मंदिर पर समाप्त होती है | लाखो भक्त इस धार्मिक रथ यात्रा का हिस्सा बन कर पूण्य के भागी बनते है | गुंडिचा मंदिर में करते है 7 दिन आराम […]

Read more

उत्तराखण्ड के चार प्रसिद्ध धाम

भारत के छोटे चार धाम उत्तराखंड

भारत में हिन्दू धर्म के इतिहास से सबसे पवित्र राज्य उत्तराखंड को माना गया है जो  हिमालय श्रृंखला की दक्षिणी ढलान पर स्थित है |  प्राचीन काल में इसे कुमाऊ उत्तरांचल के नाम से जाना जाता था | यह राज्य भारत के उत्तर में सीमांत नेपाल से जुड़ा हुआ है | यहा ऊँचे ऊँचे पहाड़ और भारत की सबसे पवित्रतम […]

Read more

लोहार्गल धाम और सूर्य मंदिर झुन्झुनू

लोहार्गल तीर्थ यात्रा

राजस्थान के झुन्झुनू जिले से 70 कि॰मी॰ दूर आड़ावल पर्वत की घाटी में बसे उदयपुरवाटी कस्बे से करीब दस किमी की दूरी पर स्थित है लोहार्गल जिसका नामकरण का सम्बन्ध पांडवो से जुड़ा हुआ है |यह नवलगढ़ तहसील में आता है और राजस्थान में पुष्कर तीर्थ के साथ मुख्य तीर्थ स्थल है | क्यों पड़ा नाम लोहार्गल तीर्थ : जैसा […]

Read more

जगन्नाथ मंदिर के 10 मुख्य चमत्कार

जगन्नाथ मंदिर चमत्कार

जगन्नाथ मंदिर से जुड़े चमत्कार जिनके सामने विज्ञान भी है फैल : भारत के चार मुख्य धाम में से एक है पूर्वी भारत के उड़ीसा में बना भगवान जगन्नाथ का मंदिर | इस मंदिर के साथ अनेको चमत्कार जुड़े हुए है | बताया जाता है द्वापर के बाद भगवान श्री कृष्ण जगन्नाथ बनकर पूरी में ही रहने लग गये है […]

Read more

जगन्नाथ पुरी मंदिर

जगतनाथ मंदिर उड़ीसा पुरी

भारत के चार धामों में पूर्व दिशा में श्री जगन्नाथ पुरी मंदिर का मंदिर उड़ीसा राज्य में स्थित है |  जगन्नाथ संस्कृत शब्द है जिसका अर्थ है जगत् + नाथ अर्थात जो समस्त  जगत के स्वामी है |  यह मंदिर भगवान श्री कृष्ण के परम आलोकित मंदिरों में से एक है | 11वी सदी में बना यह मंदिर बहुत ही […]

Read more

धार्मिक नगरी द्वारका धाम

द्वारका धाम कृष्ण

द्वारका धाम भारत के चार धामों में और सप्तपुरी धार्मिक नगरो में  से एक है | यह गुजरात के अरब सागर के तट पर जामनगर में  पड़ता है | भगवान श्री कृष्ण मथुरा को छोड़कर फिर यही बस गये | भौगोलिक उथल पथल के कारण अभी तक छह बार से ज्यादा बार यह धरती जलविलीन हो चुकी है अब तो […]

Read more

धार्मिक सप्तपुरी नगरिया

धार्मिक सप्तपुरी नगर

जाने कौन कौन सी है सप्तपुरी नगरिया : सनातन धर्म सात नगरों को बहुत पवित्र मानता है जिन्हें सप्तपुरी कहा जाता है। 1. अयोध्या : यह नगरी प्रभु श्री राम को जन्म देनी वाली सूर्यवंशी राजाओ की है | सप्त धार्मिक नगरो में इसे पहला स्थान दिया गया है | वेद तो इसे प्रभु की नगरिया बताते है | सरयू […]

Read more

रामेश्वरम् धाम

रामेश्वरम् धाम ज्योतिर्लिंग

रामेश्वरम हिंदुओं का एक पवित्र तीर्थ है जिसे आदि शंकराचार्य महाराज ने इसे दक्षिण दिशा का धाम घोषित किया ।  यह तमिलनाडु के रामनाथपुरम जिले में स्थित है। द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग का एक स्थान है | भारत के उत्तर मे काशी की जो मान्यता है, वही दक्षिण में रामेश्वरम् की है। भौगोलिक स्तिथी : रामेश्वरम एक दीप […]

Read more

गंगोत्री धाम में दर्शनीय मंदिर स्थल

गंगोत्री तीर्थ धाम

गंगोत्री धाम : वह जगह जहा से माँ गंगा का उद्गम शुरू होता है | यह उत्तराखंड राज्य के उत्तर-काशी में स्थित है | अद्भुत सौंदर्य प्राकृतिक सुन्दरता का नजारा नयनो में जयजयकार करवाता है | गंगा गौमुख रूपी एक गुफा से ग्लेशियर से निकलती है | इस जगह तो इसे भागीरथी ही कहा जाता है | यहां से निकलकर […]

Read more

ऋषिकेश दर्शन

ऋषिकेश दर्शन

देहरादून से 43  किमी दक्षिण-पूर्व में और  हरिद्वार से लगभग 25  किमी उत्तर  की दुरी शिवालिक पहाड़ियों की तलहटी पर ऋषिकेश स्थित है | यहा गंगा पहाड़ो से उत्तर के समतल मैदानों में आती है | हरिद्वार में आने वाले भक्त इस जगह भी जरुर आते है | इस जगह को ही छोटे चार  धाम  केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री […]

Read more
1 2