यमुना नदी से जुड़ी पौराणिक बाते

यमुना नदी की कहानी और पौराणिक महत्व Yamuna River Ka Pouranik Mahtav यमुना नदी भारत की पवित्र नदियों में से एक है. यह नदी राधे कृष्णा की रास स्थली वृंदावन से होकर बहती है. यमुना की उदगम स्थली यमनोत्री है . जो उत्तरी हिमालय में स्थित है. यहां से यमुना नीचे आकर ब्रज मण्डल में प्रवेश करती है. यमुना नदी […]

Read more

बरसाने की लट्ठमार होली और लड्डू होली की विशेषता

आपने सुना होगा एक भजन : बरसाने आज मची होली , बरसाने | बरसाना एक जगह का नाम है जहा राधा रानी का जन्म हुआ था | उस समय नन्दगावं में श्री कृष्ण जी रहते थे | होली पर रंग खेलने की परम्परा इन दोनों ने ही शुरू की थी | बचपन में श्री कृष्ण जी अपने साथी गोपालो के […]

Read more

राधा कुण्ड , जहां स्नान से मिलती है संतान की प्राप्ति

राधा कुण्ड गोवर्धन , जहा मिलता है संतान सुख Ahohi Ashtmi Par Radha Kund Snan Se Milega Santan Paksh Sukh ब्रज का कण कण कृष्णमय है और यहा आने वाले भक्तो पर राधे और कृष्ण अपनी कृपा बरसाते है | गिरिराज जी के रूप में गोवर्धन की परिक्रमा का महत्व अत्यंत है जिन्हें कृष्ण ने पूजे जाने की बात कही […]

Read more

क्यों घट रहा है गोवर्धन का आकार

घट रहा है गोवर्धन का आकार – क्यों आज हम आपको बताने वाले है की गोवर्धन पर्वत जिन्हें हम गिरिराज जी महाराज भी कहते है , अपने पूर्व जन्म में क्या थे | क्यों आज यह भगवान कृष्ण की तरह ब्रज में पूजे जाते है | आइये आज जानते है गोवर्धन पर्वत उत्पति की सम्पूर्ण कथा… गोवर्धन जन्म की कथा […]

Read more

स्वामी हरिदास जी महाराज

स्वामी हरिदास जी का जीवन परिचय श्री बांकेबिहारीजी महाराज के साथ यदि किसी का नाम अमर हुआ है तो वो है कृष्णोपासक सखी संप्रदाय के प्रवर्तक स्वामी हरिदास जी महाराज | वे कृष्ण के परम भक्त , कवि  और संगीतकार थे | इनके कृष्ण की सखी ललिता का अवतार माना जाता है | श्री बांकेबिहारीजी महाराज को वृन्दावन में प्रकट […]

Read more

श्री कृष्ण जन्मभूमि मथुरा की महिमा और दर्शनीय स्थल

श्री कृष्ण जन्मभूमि मथुरा की महिमा और महत्व मथुरा कृष्ण जन्मस्थली है और उत्तरप्रदेश का एक जिला है | विष्णु के अवतार श्री कृष्ण भारत की जिस भूमि पर जन्मे वो मथुरा की | उनके मामा कंस ने उनकी माँ देवकी और पिता वासुदेव को कारागार में कैद कर रखा था | जब देवकी और वासुदेव के आठवा पुत्र जन्म […]

Read more

वृन्दावन धाम में दर्शनीय स्थल और मंदिर

कृष्ण और राधे के परम का प्रतीक स्थल वृन्दावन धाम | ब्रज का ह्रदय ताज है वृन्दावन जहा राधे कृष्ण की रास लीला कण कण में समाई हुई है | यहा के राजा रानी कृष्ण और राधिका जी है | यहा राधा जी हर क्षण अपने भक्तो की रक्षा करती है |  “वृन्दस्य अवनं रक्षणं यत्र तत वृन्दावनं” | यहा […]

Read more