बाल गोपाल – लड्डू गोपाल की आरती

लड्डू गोपाल बाल गोपाल  की आरती बहुत सारे भक्त अपने घर में कृष्ण के बाल रूप को घर में बैठकर उनकी पूजा अर्चना करते है | लड्डू गोपाल जी की सेवा और पूजा विधि विशेष है और कुछ मुख्य नियमो का इसमे पालन करना चाहिए | इन्हे एक छोटे से अबोध बालक की तरह मानकर इनका अच्छे से ध्यान रखा […]

Read more

पितृ आरती – पितरो की पूजा में जरुर ले काम में

श्राद्ध के इन दिनों में पितरों के तर्पण के लिए जहां विधि-विधान से पूजा अर्चना पितरों को संतुष्ट करती है, वहीं यदि आप इन पंद्रह दिनों में नियमित रूप से आरती करें | पितृ परलौकिक शक्तियों को प्रसन्न करती है यह आरती | इसके माध्यम से हम भूतकाल में हुई कोई भूल चुक की क्षमा याचना भी करते है | […]

Read more

तुलसी जी की आरती

माँ तुलसी को लक्ष्मी जी के तुल्य माना जाता है | हिन्दू धर्म में तुलसी के पौधे की महिमा अत्यधिक है | हर घर के आँगन में यह पवित्र पौधा शोभायमान रहता है | तुलसी जी की पूजा विधि में उनकी आरती जरुर करनी चाहिए | इस आलेख में निचे वही आरती दी जा रही है | तुलसी शालिग्राम विवाह […]

Read more

नवग्रह की आरती

Navgrah Aarti in Hindi नवग्रह की आरती ज्योतिष शास्त्र में व्यक्ति के जीवन पर नवग्रह का प्रभाव अत्यंत होता है | नवग्रह यन्त्र स्थापना और पूजन के समय निचे दी जाने वाली नवग्रह आरती को जरुर पढना चाहिए | इस नवग्रह आरती में में सभी ग्रहों की महिमा बताई गयी है | नवग्रह आरती हिन्दी में आरती श्री नवग्रहों की […]

Read more

आरती : ॐ जय जगदीश हरे

ॐ जय जगदीश हरे आरती भगवान विष्णु की सबसे प्रसिद्ध आरती में से एक है | विष्णु को सत्यनारायण भगवान और जगदीश आदि नाम से जाना जाता है | इनका मुख्य वार गुरूवार का होता है | विष्णु जगत के पालनहार है इसलिए इन्हे जगदीश भी कहा जाता है | यह वैष्णव सम्प्रदाय की मुख्य आरती है | आरती ॐ […]

Read more

देवगुरु बृहस्पति की आरती

Brihaspati Dev ji ki Aarti in Hindi | देवगुरु बृहस्पति की आरती किसी भी देवी देवता की पूजा में आरती का महत्व अत्यधिक है | बिना आरती के पूजा पूर्ण नही मानी जाती | देवताओ के गुरु बृहस्पति देव का वार गुरूवार को माना गया है | इन्हे ज्ञान का सागर और देवताओ के पथ गुरु का स्थान प्राप्त है […]

Read more

घर में शंख रखने के होते है बहुत सारे फायदे

शंख को घर में रखने से होने वाले लाभ हिन्दू धर्म में शंख को पवित्र और शुभ फलदायी माना गया है। इसलिए पूजा-पाठ में शंख बजाने का नियम है। हमने पिछली पोस्ट में जाना था की क्यों मंदिर में घंटी बजाई जाती है | इसके धार्मिक फायदे तो है ही वैज्ञानिक नजरिये से भी देखे तो शंख बजाने से शारीरिक […]

Read more

चन्द्र देव ( चंद्रमा ) की आरती

चन्द्र देव आरती

भगवान सूर्य और चंद्रमा साक्षात दिखाई देने वाले देवता है | चंद्रमा रात्रि के देवता है तो सूर्य दिन के | चंद्रमा अपने सम्पूर्ण रूप में पूर्णिमा की रात्रि में होते है | इस दिन हमें चन्द्र देव की पूजा अर्चना जरुर करनी चाहिए | चन्द्रमा को सोम मयंक आदि नामो से भक्त पुकारते है | भगवान शिव के मस्तिक […]

Read more

भगवान सूर्य देव आरती

सूर्य की आरती

भगवान सूर्य जो कश्यप ऋषि के पुत्र है और अदिति उनकी माता है | जो समस्त संसार को नित्य प्रकाश प्रदान करने वाले है | जिनकी प्रशंसा में वेद पुराण भरे पड़े है | ऐसे भगवान की आरती स्तुति करके हमें  नित्य उनका आशीष लेना चाहिए | सूर्य आरती जय कश्यप नंदन जय कश्यप नन्दन, स्वामी जय कश्यप नन्दन। त्रिभुवन […]

Read more

भगवान नरसिंह जी की आरती

आरती नरसिंह भगवान की

Aarti  (हिन्दी) !! ॐ जय नरसिंह हरे,प्रभु जय नरसिंह हरे स्तंभ फाड़ प्रभु प्रकटे,स्तंभ फाड़ प्रभु प्रकटे जनका ताप हरे ॐ जय नरसिंह हरे !! !! तुम हो दिन दयाला, भक्तन हितकारी, प्रभु भक्तन हितकारी अद्भुत रूप बनाकर, अद्भुत रूप बनाकर, प्रकटे भय हारी ॐ जय नरसिंह हरे !! !! सबके ह्रदय विदारण, दुस्यु जियो मारी, प्रभु दुस्यु जियो मारी […]

Read more
1 2