घर में शंख रखने के होते है बहुत सारे फायदे

शंख को घर में रखने से होने वाले लाभ

हिन्दू धर्म में शंख को पवित्र और शुभ फलदायी माना गया है। इसलिए पूजा-पाठ में शंख बजाने का नियम है। हमने पिछली पोस्ट में जाना था की क्यों मंदिर में घंटी बजाई जाती है | इसके धार्मिक फायदे तो है ही वैज्ञानिक नजरिये से भी देखे तो शंख बजाने से शारीरिक लाभ भी प्राप्त होते है |

इसे बजाना मुंह से लेकर फेफड़ो तक लाभदायक है | इसे मंदिर में रखना पूजा में जरुरी 10 चीजो में से एक है |
शंख रखने के फायदे
वातावरण पवित्र- वैज्ञानिक प्रमाणित कर चुखे है की में शंख बजाने से दो ध्वनी निकलती है वो शरीर और आसपास के वातावरण को शुद्घ करती है | यह नकारात्मक उर्जा को सकारात्मक उर्जा में बदलती है |

कामना की पूर्ति– कहा जाता है कि जहां तक शंख की आवाज जाती है, इसे सुनकर लोगों के मन में सकारात्मक विचार पैदा होते हैं और वे पूजा-अर्चना के लिए प्रेरित होते हैं। ऐसी मान्यता है कि शंख की पूजा से हमारी कामनाएं पूरी होती हैं।
लक्ष्मी का वास- चूंकि माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु, दोनों ही अपने हाथों में शंख को धारण करते हैं, लिहाजा शंख को बेहद शुभ माना जाता है। साथ ही ऐसी मान्यता है कि जिस घर में शंख होता है, उस घर पर लक्ष्मी नारायण की कृपा रहती है और वह घर आर्थिक रूप से मजबूत रहता है |
सेहत पर प्रभाव- शंख बजाने से फेफड़े का व्यायाम होता है और स्वास्थ्य पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है। खासतौर पर श्वास के रोगी के लिए यह बेहद असरदार माना गया है। आयुर्वेद के अनुसार शंख बजाने से दमा, यकृत और इन्फ़्लुएन्ज़ा जैसी बीमारियां भी दूर होती हैं।

वारावरण के कीटाणु : शंख बजाने से आस पास के वातारण में उपस्थित कई तरह के कीटाणु मरते है |
जल के फायदे- शंख में जल रखने और इसे छिड़कने से वातावरण शुद्ध होता है। शंख में कैल्श‍ियम , गंधक और फॉस्फोरस के गुण मौजूद होते हैं। लिहाजा शंख में रखे पानी के सेवन से हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं |
वास्तुशास्त्र : यदि कोई घर सोया हुआ है अर्थात दुर्भाग्य से ग्रसित है तो वहा भी शंख की आवाज उसे सतोगुण प्रदान करती है  |
Other Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *