सूरज ढलने के बाद शाम को नही करने चाहिए कुछ काम

सूर्यास्त के बाद नही करे ये काम

संध्या के समय जब सूर्यास्त होता है , वो समय हमारे धर्म में पूजा पाठ का समय बताया गया है | रोजगार वाले व्यक्ति तो चलो अपने कर्म के कारण उस समय रोजगार में रहते है पर यदि हम फ्री है तो हमें उस समय कुछ ऐसे काम तो करने ही नही चाहिए जो हमारे लिए गलत परिणाम ले कर आये |

हमने हमारे बुजुर्गो से सुन रखा है की संध्या हो गयी अब यह नही करो वो नही करो | क्योकि यह बाते बहुत समय से हमारी धार्मिक परम्पराओं का एक भाग बन चुकी है |

शाम को सूर्यास्त के बाद क्या क्या नहीं करे

मनु ग्रन्थ में एक श्लोक आया है की संध्या के समय चार काम ना करे

‘चत्वार‌ि खलु  कार्याण‌ि संध्याकाले व‌िवर्जयेत्। (चार कार्य संध्याकाल में नहीं करे )

 आहारं मैथुनं न‌िद्रां स्वाध्यायन्च चतुर्थकम्।। (भोजन , सहवास , सोना और पढ़ना )

  1. संध्या के समय पूजा पाठ करे , उस समय भोजन या अन्य विषयो का भोग ना करे
  2. संध्या पूजन के समय पति पत्नी को रति क्रिया (सहवास ) नही करना चाहिए
  3. सूर्यास्त के समय घर में झाड़ू भी ना लगाये क्योकि यह समय देवी लक्ष्मी के आगमन का माना गया है | झाड़ू लगाने से वो रुष्ट हो जाएगी |

  1. संध्या के समय नाखून भी नही काटने चाहिए |
  2. संध्या के समय विद्यार्थी को पढाई भी नही करनी चाहिए |
  3. संध्या काल में सोना भी गलत बताया गया है | इस समय सोने वाले का भाग्य भी सो जाता है |
  4. शाम होने के बाद किसी को अपना धन उधार ना दे , इससे आप अपनी लक्ष्मी कृपा उसे दे रहे है |

संध्या के समय फिर क्या करे :

संध्या के समय सूर्यास्त पर आप भक्ति साधना ध्यान और पूजन के कार्य ही करे | इससे आपका भाग्य मंगलकारी हो जायेगा |


Other Religious Posts

भूल से भी ना करे इन वस्तुओ का दान – नही तो लगेगा पाप

क्या आप जानते है गंगा जल की इन शक्तियों के बारे में

जाने उत्तराखण्ड के चार प्रसिद्ध मुख्य धामों के बारे में

हनुमान चालीसा की मुख्य चमत्कारी चौपाइयाँ

कैसे करे गणेश चतुर्थी पर गणपति की पूजा

पर्स में जरुर रखे यह 5 चीजे – कभी धन की कमी नही आएगी

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.