भगवान विष्णु का कल्कि अवतार कलियुग में

कलियुग में कल्कि अवतार विष्णु

कलियुग और कल्कि अवतार

ब्रह्मवैवर्त पुराण में बताया गया है की कलियुग में एक समय ऐसा आएगा जब मनुष्य कु उम्र औसत 40 वर्ष ही रह जाएगी | 16 वर्ष की उम्र में आते आते बाल सफ़ेद हो जायेंगे | तब भगवान विष्णु का फिर एक अवतार कल्कि अवतार होगा |


कल्कि अवतार विष्णु

कल्कि अवतार विष्णु द्वारा कलियुग में

यह तो हम भी देख रहे है की जैसे जैसे समय बढ़ता जा रहा है कलियुग भी प्रबल होता जा रहा है और मनुष्य की उम्र घटती जा रही है |

पढ़े : गणेश के सभी 8 अवतार

पढ़े : पुराणों की कथाये और कहानियाँ

कैसा होगा आने वाले कलियुग का रूप

प्राकृतिक वातावरण बिगड़ जायेगा , नए नए रोग उत्पन्न और उम्र होगी कम

जनसंख्या में अत्यधिक बढ़ोतरी से संसाधनों के गलत और अत्यधिक उपयोग से नए नए रोग उत्पन्न होंगे जिससे की लोगो की उम्र बहूत कम रह जाएगी | जिस उम्र में आज जवानी आती है उस उम्र में बुढ़ापा आना शुरू हो जायेगा |

स्त्रियों का पुरुष के ऊपर रहेगा बोलबाला

इस समय समाज में स्त्रियों का पुरुष पर वर्चस्व रहेगा | पुरुष इनके वश में रहेंगे | ये स्त्रियों के अधीन होकर ही कार्य करेंगे |

देव नदी गंगा भी हो जाएगी लुप्त :

कलियुग के पांच हजार साल बीतने पर  गंगा नदी सूख जाएगी और पुन: सत्यनारायण के वैकुंठ धाम लौट जाएगी। जब कलियुग के दस हजार वर्ष पुरे होंगे  तब सभी देवी-देवता पृथ्वी को छोड़ देंगे | सभी धर्म और उससे जुड़े कार्य बंद हो जायेंगे | पाप असत्य हर तरफ फैला रहेगा |

पाप अपने चरम पर होगा :

समाज में लोग एक दुसरे के दुश्मन बन जायेंगे | हिंसा भारी होगी | जो शक्तिशाली है वो दुसरो का शोषण करेंगे |  मारा मारी अफरा तफरी  दुष्कर्म पाप अपने चरम पर होगा | धर्म तो ख़त्म ही हो जायेगा | गाय दूध देना बंद कर देगी , भूमि अन्न नही उत्पन्न करेगी |

बुरा देखेंगे , बुरा करेंगे और बुरा ही सुनना पसंद करेंगे :

कलियुग में लोग शास्त्रों और धार्मिक किताबो  से पूरी तरह  विमुख हो जाएंगे। धर्म विरुद्ध पुस्तकों का बोलबाला होगा | लोग अनैतिक कार्यो में व्यस्त रहेंगे | स्त्री हो या पुरुष हो सभी अधर्मी हो जायेंगे |  चोर अपराधी बन जायेंगे | पाप करना ही अपना कर्म समझने लगेंगे |

विष्णु का कल्कि अवतार करेगा अधर्म का  विनाश

और जब जब आप अपने चरम पर पहुँच जाता है तब किसी देवता को संतुलन बनाये रखने के लिए अवतार लेना ही पड़ता है अत: तब कलियुग के चरम में होगा भगवान विष्णु का कल्कि अवतार | यह अपने ऊंचे घोड़े पर चढ़कर अपनी विशाल तलवार से पापियों को ख़त्म करेंगे | अधर्म का नाश होगा | बताया गया है यह अवतार एक ब्राह्मण के घर में होगा जिसका नाम है विष्णुयशा | पढ़े :  विष्णु के सभी अवतार

फिर आएगी महा तबाही :

कलियुग के अंत में महा वर्षा लगातार होगी जिससे पानी का स्तर बढ़ता ही जायेगा और यह पृथ्वी जल में विलीन हो जाएगी | पूरी पृथ्वी पर तबाई का मातम होगा | फिर एक साथ बारह सूर्य उदय होकर अपने तेज से जल को सुखा देंगे और फिर से सतयुग शुरू हो जायेगा |

सनातन धर्म से जुड़े लेख यह भी जरुर पढ़े

क्यों की जाती है लक्ष्मी के साथ गणेश पूजा

शनि को प्रसन्न कैसे करे ?

संतान धर्म से जुडी कथाये

जाने द्वादश ज्योतिर्लिंग शिवजी के

चरणामृत का क्या महत्व है ?

किस भगवान को कौनसा पुष्प चढ़ाये 

पीपल की महिमा और पूजन विधि

एक ही स्त्री का दूध क्यों पिया बह्रमा विष्णु महेश ने

Join Best Facebook Page of Hinduism Follow us on Twitter and Google Plus

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.