तुलसी जी की पूजा विधि – कैसे करे पूजन

घर में तुलसी जी की पूजा कैसे करे आइये जानते है पूजा विधि | हमारे सनातन धर्म में तुलसी का पौधा एक देवी लक्ष्मी के तुल्य है | यह विष्णु के ही एक रूप  भगवान शालिग्राम जी की पत्नी है | यह घर के आँगन में लगी रहती है तो उस घर में सौभाग्य और अन्न धन की कभी कमी नही आती | घर में इसे परिवार का सदस्य मानकर नित्य ध्यान से पूजा और सींचना (जल देना ) चाहिए |


पढ़े : पूजा अर्चना से जुड़े मुख्य हिन्दू आलेख

पढ़े : क्यों तुलसी शालिग्राम का विवाह करवाया जाता है

तुलसी पूजन में काम आने वाली सामग्री

  • एक प्लेट
  • एक शुद्ध जल का लोटा
  • अगरबत्ती या धुप
  • देशी घी का एक दीपक
  • हल्दी और सिंदूर

तुलसी पूजा विधि

तुलसी पूजा विधि

कैसे करे तुलसी जी की पूजा




सबसे पहले माँ तुलसी जी को नमन करे | यह आपके घर की रक्षक है |

अब लोटे से जल चढ़ाये और मंत्र पढ़े : “महाप्रसाद जननी सर्व सौभाग्यवर्धिनी , आधि व्याधि हरा नित्यं तुलसी त्वं नमोस्तुते।।”

इसके बाद उन्हें सिंदूर और हल्दी चढ़ाये | यह उनका श्रंगार है |

अब तुलसी जी की पूजा के लिए घी का दीपक जलाये और शालिग्राम और वृंदा देवी को याद करके उनकी जय जयकार करे |

अब धुप अगरबत्ती जलाये और माँ तुलसी की आरती करे |

अब घर और परिवार के सदस्यों के लिए अच्छे भाग्य की विनती करे |

पूजन से जुड़े नियम

  • रविवार को तुलसी जी को नही तोड़े ना ही जल डाले |
  • रोज पूजा करे |
  • जब भी तुलसी जी के पत्ते तोड़े पहले ताली बजाये फिर क्षमा मांगे और फिर तोड़े |
  • कभी तुलसी जी के पौधे को सूखने ना दे |
  • जो भी भोग आप देवी देवताओ के निकालते है उनमे तुलसी दल जरुर रखे |
  • गणेश जी और शिव जी की पूजा में तुलसी काम में नही ले |

Other Similar Posts

तुलसी जी के पौधे की देखभाल कैसे करे

कैसे किया जाता है घर में तुलसी जी का विवाह

क्यों रविवार के दिन तुलसी ना तोड़े , ना पानी दे ?

भगवान विष्णु के महा मंत्र और जाप विधि

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.