भगवान की पूजा में चढ़े पुष्पों और माला का क्या करना चाहिए ?

पूजा में चढ़े पुष्पों और माला का क्या करे

Pooja Me Kam Me Liye Gaye Flowers Ka Kya Kare :

हिन्दू धर्म में बिना पुष्प या माला के पूजा को अधुरा ही माना जाता है | पुष्प भगवान की प्रतिमा और फोटो का सजाने में काम आते है साथ ही वे वातावरण को अपनी खुशबु से शुद्ध कर देते है  | मंदिरों को सजाने में भी पुष्पों की विशेष भूमिका रहती है | हमेशा देवी देवताओ को पुष्प ताजा ही चढाने चाहिए | बाजार से लाने के बाद भी इन्हे एक बार शुद्ध जल से धो लेना चाहिए | अगले दिन ये माला और पुष्प सुख जाये तब जाने की हमें उनका क्या करना चाहिए  |


पढ़े : किस देवी देवता को कौनसे पुष्प चढाने चाहिए

पूजा में काम में लिए गये पुष्प का क्या करे

अक्सर हममें से बहुत से लोग ऐसे है जो इन पुष्प मालाओ को सूखने के बाद कचरे या dustbin में अज्ञानतावश डाल देते है | जिन फूलो ने देवताओ की इतनी  शोभा बढाई , उन्हें हम कचरा पात्र में डाल दे तो यह हमारे जीवन में दोष उत्पन्न करता है | शास्त्रों में बताया गया है की भगवान पर चढ़ाकर उतारे गए फूलों को निर्माल्य कहा जाता है  | इन्हे बहुत पवित्र माना जाता है क्योकि ये देवताओ की सकारात्मक शक्तियों को अपने अन्दर समाहित कर लेते है |

क्या करे फिर इन निर्माल्य पुष्पों का


जल में पुष्पों को प्रवाहित करना पूजा के बाद जब यह अगले दिन सुख जाये या फिर आपको दुसरे पुष्प चढाने हो , तब आप इन पुराने पुष्प और मालाओ को एक बार सूंघ ले जिससे की उनकी पॉजिटिव एनर्जी आपके शरीर में आ जाये फिर उन्हें एक साफ़ थैली में डाल ले |

अब इन्हे या तो पास की नदी , तालाब में प्रवाहित कर दे | या फिर आप इसे खाद के रूप में पीपल , वट आदि पेड़ो की जड़ में भी डाल सकते है | ध्यान रखे आपको थैली से निकाल कर इन्हे डालना चाहिए |

कभी भी पूजा में काम में ली गयी सामग्री को कचरे में नही जाने दे |

Other Similar Posts

घर में रखे शिवलिंग की पूजा से जुड़े नियम

भगवान शिव से जुडी रोचक बाते और चीजे

मंदिर में जाने के 10 नियम और रखे इन बातो का ध्यान

पूजा में रखे इन बातो का ध्यान , तभी मिलेगा पूजा का पूर्ण फल

सत्संग के अमृत कण – 61 अनमोल बाते जो आपको जानना जरुरी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.