पञ्चमुखी हनुमान मंत्र की शक्ति

पञ्चमुखी हनुमान मंत्र इनके मंत्रो में सबसे अद्भुत और शक्ति का परिचायक है | यह कैसा भी संकट को , उसे दूर करने की क्षमता रखता है | भगवान शिव के रूद्र अवतार श्री हनुमान की महानता और बाहुबलीपन को कौन नही जानता |

पंचमुखी हनुमान का मंत्र

पंचमुखी हनुमान रूप

आठ चिरंजीवी में उन्हें माता सीता द्वारा अमरता का वरदान प्राप्त है | हमने आपको पिछले लेख में बताया था , की किस हनुमान रूप की पूजा से कौनसा फल प्राप्त होता है | आज हम हनुमान जी के पञ्चमुखी रूप और उससे जुड़े महाशक्तिशाली मंत्र की बात करेंगे |


पवनपुत्र  हनुमान को संकटमोचन के नाम से भी पुकारा जाता है | यह अपने भक्तो के संकट को दूर करने में देर नही लगाते | रामायण में एक प्रसंग आया है जिसमे इन्होने अपने प्रभु श्री राम और उनके भाई लक्ष्मण के भी प्राण बचाए थे | इसके लिए इन्होने पंचमुखी रूप धारण किया था |

पढ़े : पूजा अर्चना से जुड़े मुख्य धार्मिक लेख

पढ़े : भारत के चमत्कारी मंदिर

कौन सो संकट मोर गरीब को , जो तुमसे नहिं जात है टारो

पञ्चमुखी हनुमान मंत्र

यह हनुमान का पञ्चमुखी मंत्र हर तरह के दुःख , कष्ट , विपदाओ का नाश करने वाला है | इसके जप से आप निरोगी शरीर , यश , वैभव की प्राप्ति करते है | जिस जगह यह मंत्र उच्चारण किया जायेगा वहा नकारात्मक शक्तियां दूर होगी |

निचे दिया जा रहा है पञ्चमुखी हनुमान मंत्र :

ॐ हरि मर्कट मर्कटाय स्वाहा

मन्त्र की जाप विधि –

पञ्चमुखी हनुमान की फोटो लाल कपडे की चौकी पर लगाये | फिर स्नान धुप दीपक से पूजा करे | हनुमान को प्रिय चीजो को भेट करे |

अपने गुरु से दीक्षा लेकर रुद्राक्ष , लाल चन्दन या मुंगे की माला से सवा लाख जप करे | इससे यह मन्त्र सिद्ध हो जायेगा | साधना काल में ब्रहमचर्य का पालन करे | साधना काल में डरे नही और निडर होकर हनुमान जी पूजा करते रहे |

पढ़े : माला से मन्त्र जप की सही विधि

पढ़े : पीपल के पत्ते की माला से हनुमान जी का टोटका

एक और शक्तिशाली मंत्र है जो आपको बड़ी से बड़ी बुरी शक्तियों से रक्षा करता है |

मंत्र 2

ऊँ ऐं श्रीं ह्रीं ह्रीं हं ह्रौं ह्रः ऊँ नमो भगवते महाबल पराक्रमाय भूत-प्रेत-पिशाच ब्रह्म राक्षस शाकिनी डाकिनी यक्षिणी पूतना मारीमहामारी राक्षस भैरव बेताल ग्रह राक्षसादिकान् क्षणेन हन हन,भंजय भंजय मारय मारय,क्षय शिक्षय महामहेश्वर रुद्रावतार

मंत्र जप :

12 बार इस मंत्र को जप ले , भयानक से भयानक डर भी खत्म हो जायेगा | इसमे सभी बुरी शक्तियों से बचाव का मार्ग हनुमान जी की विनती से बताया गया है |

पढ़े : देवी देवताओ के बीज मन्त्र और शक्ति

 

 

 

 

 

 

 

3 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.