ॐ नमः शिवाय मंत्र की शक्ति

 Om Namah Shivaay Mantra In Hindi

शिव का पंचाक्षर व षडक्षर मन्त्र

शिव के पंचाक्षर मंत्र नमः शिवाय में यदि ॐ को आगे जोड़ दिया जाये तो यह भगवान शिव का षडक्षर मंत्र हो जाता है | जो इस तरह बनता है , : ॐ नमः शिवाय |  शिव के मन्त्र सरिता में इस मंत्र का विशेष स्थान है | यह जितना सरल मंत्र है उतना ही शक्तिशाली और चमत्कारी भी है | इस पंचाक्षर और षडक्षर मन्त्र का यदि आप रुद्राक्ष की माला से सही जाप करेंगे तो अपने सभी मनोरथ को पूर्ण कर सकेंगे |

ॐ नमः शिवाय मंत्र

ॐ नमः शिवाय मंत्र की महा शक्ति

पढ़े : भगवान शिव को प्रसन्न करने के उपाय

पढ़े : शिव पूजा विधि – ऐसे करेंगे जो जरुर कृपा करेंगे भगवान

ॐ नमः शिवाय मंत्र जप का स्थान

यदि आप किसी पवित्र नदी के किनारे शिवलिंग स्थापना और पूजन के बाद जप करेंगे तो उसका फल सबसे उत्तम प्राप्त होगा |


आप किसी पर्वत और शांत वन में भी यह शिव पंचाक्षर और षडक्षर मन्त्र का जाप कर सकते है |

किसी शिवालय में अपने घर के शिवलिंग के पास भी मंत्र जप करना उत्तम बताया गया है | महामृत्युञ्जय मंत्र की शक्ति से आप पहले ही परिचित होंगे |

कितना जप करे

यह एक मात्र मंत्र ऐसा है जिसकी कोई जप संख्या नही है | आप जितना इसका जप करेंगे उतना ही यह सिद्ध होता जायेगा | ॐ नमः शिवाय मंत्र  जितना सरल है उतना ही चमत्कार से भरा हुआ है | ब्रहमस्वरुप महा शिव की कृपा पाने का सबसे आसान रास्ता है इस मंत्र का उच्चारण |

Other Similar Posts

शिव के जन्म की कथा पुराणों के अनुसार

शिवलिंग के उत्पति की कहानी

शिवलिंग पर क्या नही चढ़ाना चाहिए

ऐसे 4 शिवलिंग जिनका बढ़ रही है हर साल लम्बाई

असली रुद्राक्ष की पहचान कैसे करे

 

 

 

 

 

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.