कनकधारा स्त्रोत का पाठ इस विधि से करे , माँ लक्ष्मी भर देगी तिजोरियां

कनकधारा स्त्रोत पाठ विधि

KanakDhara Stroth Paath Vidhi In Hindi : हमारे धार्मिक शास्त्रों में बताया गया है की माँ लक्ष्मी धन की देवी है और जिस किसी पर इनकी कृपा हो जाये उसके धन के भण्डार भर जाते है | शास्त्रों में माँ लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए बहुत सारे पाठ बताये गये है जिसमे से सबसे मुख्य है कनकधारा स्त्रोत का पाठ |


इसकी रचना आदि गुरु शंकराचार्य जी ने की थी | यह पाठ सही विधि से करे तो माँ लक्ष्मी की जरुर कृपा प्राप्त होती है और धन प्राप्ति के योग बनते है |

kanakdhara strot paath vidhi

क्या है कनकधारा स्त्रोत पाठ

‘कनक’ शब्द का अर्थ है सोना और ‘धारा ‘  का अर्थ है बहना | अर्थात जो सोने की धारा बहा दे वो पाठ |

इस पाठ की रचना करके जब आदि शंकराचार्य  ने माँ लक्ष्मी की स्तुति की तब आकाश से सोने की वर्षा हुई थी | तभी इसका नामकरण कनकधारा स्त्रोत रख दिया गया |

पाठ विधि


एक चौकी पर लाल कपड़े पर माँ लक्ष्मी की बैठी हुई प्रतिमा या फोटो लगाये और साथ में एक कनकधारा यंत्र स्थापित करे |

अब शुद्ध होकर  कनकधारा स्त्रोत का पाठ करे |

kanakdhara yantraरोजाना नियमित रूप से कनकधारा यंत्र के सामने धुप-बत्ती जलाये ।

आप इसे दिन में एक बार जरुर पढ़े चाहे सुबह या शाम को | आप एक ही समय इसके लिए चयन करे |

नोट : इस यंत्र की विशेषता भी यही है कि यह किसी भी प्रकार की विशेष माला, जाप, पूजन, विधि-विधान की मांग नहीं करता बल्कि सिर्फ दिन में एक बार इसको पढ़ना पर्याप्त है।

Other Similar Posts

धन प्राप्ति के सिद्ध 13 उपाय जो भर देंगे अपार धन

देवी लक्ष्मी पूजन की सरल विधि

लक्ष्मी जी की मूर्ति का रूप कैसा हो की मिले अपार धन

घर में रखे ये 10 चीजे , कभी धन की कमी नहीं आएगी

कुबेर की पूजा विधि और धन प्राप्ति मंत्र जप विधि

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.