क्यों घरो में धूप की जानी चाहिए , क्या है फायदे और नियम

क्यों घर में रोज धूप की जानी चाहिए  ?

हिन्दुओ के लगभग सभी घरो में देवी देवताओ की भी मंदिर होता है | सुबह और शाम हम अपने आराध्य देवताओ की पूजा पंचोपचार या षोडशोपचार पूजन विधि से करते है | इन विधियों में एक है वातावरण को सुगन्धित करके देवताओ को प्रसन्न करना | वातावरण में खुशबू फैलाने के लिए धूप धूनी और इत्र और अगरबत्ती का सहारा लिया जाता है |


हमने पहले बताया था की पूजा में कभी अगरबत्ती नही जलानी चाहिए क्योकि उसमे बांस होता है जिसका जलना परिवार के सदस्यों के घातक होता है |

पढ़े : पूजा पाठ मंत्र से जुड़े मुख्य लेख

पढ़े : अक्षय (आंवला) नवमी पर आंवले के पेड़ की पूजा महत्‍व व व्रत कथा
घर में धूप करने के फायदे


धूनी करने के पीछे कारण

नित्य सुबह और शाम धूप जलाने से घर में सकारात्मक उर्जा और दैविक शक्तियों में बढ़ोतरी होती है | धुप की सुगंध से घर में शांति , समृधि और सम्पन्नता का वास होता है | इसकी खुशबू में इतनी शक्ति होती है की यह घर से नकारात्मक शक्तियों को दूर करती है |

यदि रोज धूप नहीं दे पाएँ तो तेरस, चौदस, और अमावस्या और पूर्णिमा को सुबह-शाम धूप अवश्य देना चाहिए। सुबह जो धूप दी जाती है वो देवताओ के लिए होती है और शाम को दी जाने वाली धूप पितरो के लिए।

कैसे दे धूप – विधि

सर्वप्रथम एक गाय के गोबर का कंडा जलाएँ। फिर कुछ देर बाद जब उसके अंगारे ही रह जाएँ तब गुड़ और घी बराबर मात्रा में लेकर उक्त अंगारे पर रख दें |

धुप देने से जुड़े नियम

धूप देने के पूर्व घर की सफाई अच्छे से होनी चाहिए अर्थात सुबह और शाम घर में झाड़ू लगी होनी चाहिए । धूप देने वाले को स्वयं भी पवित्र होना चाहिए |  धूप ईशान कोण में मंदिर से शुरू करे | घर के सभी कमरों में धूप की खुशबू चली जानी चाहिए |  धूनी देते समय मन में विचार करे की आप इस धुप से बुरी शक्तियों को दूर कर रहे है और अच्छी सकारात्मक उर्जा को बढ़ा रहे है | धूप देते समय यदि घंटी बजाये तो बहुत ही अच्छा होगा |

धूप देने से फायदे

धूप देने से मन, शरीर और घर में शांति की स्थापना होती है। यह गृह कलेश और आकस्मिक घटना-दुर्घटना से बचाव करती है | घर में सुख सम्पन्नता और लक्ष्मी का वास होता है | यह वास्तु दोष को मिटाती है और नकारात्मक उर्जा को दूर करती है | धूप करने से पितृ दोष दूर होकर उनके प्रसन्न करती है |

 

Similar Posts

पारद शिवलिंग क्या होता है , जाने महत्व और लाभ

पुराणों में बताये गये नैमिषारण्य तीर्थ स्थान  की महिमा

सबसे ज्यादा पुण्य दिलाने वाले बड़े महा दान कौनसे है

व्रत रखने से होते है कई स्वास्थ्य सम्बन्धी फायदे

क्यों पहनते है जनेऊ और जाने मिलने वाले लाभ

वट वृक्ष का महत्व और पूजा विधि के बारे में जाने

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.