हनुमान के अलग अलग रूप की पूजा का फल भी अलग अलग

हनुमान जी आज भी अजर अमर है और यह वरदान उन्हें माँ सीता ने दिया था | आज भी जहा श्री राम के भजन कीर्तन होते है , श्री हनुमान किसी ना किसी रूप में अवश्य आते है | धार्मिक ग्रंथो में हनुमान जी के अलग अलग रूपों की महिमा बताई गयी है | भक्त इनके जिस रूप की पूजा करते है उन्हें उसी आधार पर फल और पुण्य प्राप्त होता है |


हनुमान के किस रूप की पूजा का क्या फल

अलग अलग समस्याओ के लिए बालाजी के अलग अलग रूप के पूजा की बात बताई जा रही है |


आइये जानते है संकट मोचन हनुमान के अलग अलग स्वरूपों की महिमा और उस रूप की पूजा से मिलने वाला फल  

दक्षिणमुखी हनुमान प्रतिमा की पूजा 

जो भक्त हनुमान जी की दक्षिणमुखी प्रतिमा की पूजा अर्चना करते है उन्हें काल का भय नही रहता | दक्षिण दिशा मृत्यु के देवता यमराज की मानी जाती है और हनुमान जी तो महाकाल शिव के ही अवतार है |

भक्ति में लीन हनुमान प्रतिमा की पूजा

यदि कोई भक्त राम नाम की धुनी में रमे हुए राम भक्त हनुमान की पूजा करते है तो उनपे उनके आराध्य देव जल्दी ही प्रसन्न होते है | उन भक्तो की एकाग्र शक्ति बढती है और कार्यो में सफलता प्राप्त होती है | इस तरह की प्रतिमा की भक्ति से वे अपने लक्ष्य को जरुर पा लेते है |

उत्तरामुखी हनुमान

हनुमान रूप की महिमा
हमारे धर्म में 33 कोटि देवी देवताओ की दिशा उत्तर को माना गया है | यदि कोई भक्त उत्तरमुखी हनुमान प्रतिमा की पूजा करते है तो उनपे सभी देवी देवताओ की कृपा बरसती है |

महाबली हनुमान प्रतिमा की पूजा

इस तरह की मूर्ति या फोटो की पूजा करने से भक्त को शारीरिक शक्तियों की प्राप्ति होती है | हनुमान जो बल शक्ति के दाता है |

संजीवनी बूटी लाने वाले हनुमान

इस तरह की मूर्ति या फोटो की पूजा अर्चना करने से आपकी शारीरिक व्याधियां बीमारियाँ दूर होगी | हनुमान जी संजीवनी बूटी लाकर लक्ष्मण के प्राण बचाए थे |

रामायणी हनुमान फोटो

रामायण का पाठ करते हुए हनुमान की फोटो या मूर्ति की पूजा करने से विद्या की प्राप्ति होती है | यह पूजा विशेषकर विद्यार्थियों को करनी चाहिए |

Other Posts Regards Lord Hanuman

कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न- पूजा के उपाय

हनुमान चालीसा के चमत्कारी लाभ

प्यार का भूत उतारने वाला हनुमान जी का मंदिर

नृत्य करते हुए हनुमान मंदिर

हनुमानजी को प्रसन्न करने चीजे जो लेनी चाहिए काम

कैसे चढ़ाये हनुमान जी के सिंदूर का  चोला

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.