भालू होते है देवी की आरती में शामिल

चंडी देवी मंदिर में भालू आते है आरती में

हमने पहले के लेखो में भी बताया की भारत के मंदिरों में इंसानों के अलावा जीव जंतु भी ईश्वर के प्रति अपनी भक्ति दिखाते है | कही शिवलिंग की पूजा करने नाग देवता कई सालो से आ रहे है तो कही शाकाहारी मगरमच्छ मंदिर की रक्षा कर रहा है | आज हम जिस मंदिर की बात करने वाले है वो […]

Read more

इंदौर में स्थित जुनि शनि मंदिर

जुनि शनिदेव मंदिर इंदौर

शनि देव मंदिर जिनका नाम सुनते ही एक काले रंग की प्रतिमा जो तेल से नहाई हुई है , की छवि दिखाई पड़ती है | पर भारत में एक शनि देव मंदिर ऐसा भी है जहा इनका सोलह श्रृंगार के साथ साथ दूध दही से अभिषेक किया जाता है | सबसे चमत्कारी शनि मंदिर शिंगणापुर का बताया गया है यह […]

Read more

भगवान पशुपति नाथ नेपाल

पशुपतिनाथ शिवलिंग नेपाल

कहाँ है भगवान पशुपति नाथ का : यह दिव्य शिवलिंग नेपाल की राजधानी काठमांडू से तीन किलोमीटर उत्तर-पश्चिम देवपाटन गांव में बागमती नदी के तट पर स्थित है। इसे यूनस्को ने अपनी सुंची में शामिल किया है | भगवान शिव के महा शिवलिंगों में इसका स्थान है | भारत से बहुत सारे शिव भक्त यहा दर्शन करने आते है | […]

Read more

सिमसा माता मंदिर

सिमसा माता मंदिर

हिमाचल में एक सिमसा मंदिर ऐसा है जो बाँझ महिलायों को संतान होने का आशीष प्रदान करता है | दूर दूर से परेशान महिलाये माँ की चोखट पर संतान प्राप्ति का आशीष लेने इस मंदिर में आती है | रात्रि को सोते है मंदिर के फर्श पर : रात्रि में यहा महिलाये मंदिर के फर्श पर सोती है और माँ […]

Read more

नाकोड़ा तीर्थ में विराजित भैरव

नाकोड़ा तीर्थ में विराजित भैरव

गुरुदेव हिमाचल सुरिश्वर जी एक बार सुबह लेटे हुए थे | उन्हें एक बालक पाट के पास फिरता नजर आया | उन्होंने उस बालक को रोककर उसका परिचय पूछा | उस दिव्य तेज वाले बालक ने खुद को भैरव देव बताया और आदेश दिया की उन्हें भी भगवान पार्श्वनाथ जी के मंदिर में बैठाया जाये | गुरुदेव चिंता में पड़ […]

Read more

मंदसौर के पशुपतिनाथ शिवलिंग की महिमा

पशुपति नाथ मंदिर मंदसौर

मंदसौर  के पशुपतिनाथ शिवलिंग के मिलने की बात : स्थानीय लोगो के अनुसार सन 1940 में यहा  उदाजी नामक धोबी शिवना नदी के तट पर कपडे धो रहा था | उसे नही पता था की वो जिस पत्थर पर कपडे धो रहा है वो एक दिव्य और बड़ा शिवलिंग है | धीरे धीरे यह शिवलिंग शिवना नदी के तट से […]

Read more

हिन्दू धर्म के मुख्य धार्मिक प्रतीक

ॐ  : यह संपूर्ण ब्रह्मांड का प्रतीक है ! सबसे शक्तिशाली और उर्जावान शब्द है ॐ | बहुत सारे मंत्रो की शुरुआत इसी ॐ से होती है | यह बरह्म का ही रूप है | स्वस्तिक :  यह चिन्ह अति पावन माना जाता है जो शुभ , वैभव , मंगल का प्रतीक है | घर के द्वार पर , मंदिर […]

Read more

अलोपी शक्तिपीठ

यहा गिरी थी सती की कलाई और हो गयी थी गायब | मूर्ति की नही पालने की होती है पूजा | अलोपी देवी के मंदिर में ना कोई प्रतिमा है , ना ही कोई मूर्ति और ना ही कोइ यन्त्र बस है तो एक पालना जिसके ऊपर लाल रंग का कपड़ा बिछा हुआ है | पौराणिक कथाओ के अनुसार यहा […]

Read more

शनि की दृष्टि से नही बच पाए भगवान शिव भी

शनिदेव निष्पक्ष दण्डाधिकारी है | चाहे देव हो या असुर मनुष्य हो या पशु सबको उनके कर्मो के आधार पर यह दण्ड देते है | भगवान शिव है इनके गुरु : हिन्दू शास्त्रों में देखने पर पता चलता है स्वयं भगवान शिव ही सूर्य पुत्र शनिदेव के गुरु है | उनके आशीष से ही यम के भाई शनि को दण्डाधिकारी […]

Read more

विष्णु भगवान के घोड़े का सिर

एक समय भगवान विष्णु वैकुण्ठ धाम में एक धनुष की  डोरी के सहारे सो गये | उन्हें अच्छे से नींद आ गयी | दूसरी तरफ स्वर्ग लोक में दानवो ने अपना आतंक फैला रखा था | स्वर्ग के देवता ब्रह्मा जी के पास अपनी परेशानियों के समाधान के लिए गये | ब्रह्मा जी ने उन्हें भगवान विष्णु की शरण में […]

Read more
1 83 84 85 86 87 106