खंडित मूर्ति की पूजा क्यों नही करे

खंडित मूर्ति

क्यों नही की जाती  खंडित मूर्ति की पूजा : हिन्दू धर्म में देवी देवताओ की साकार रूप में मानकर पूजा की जाती है | इस विधि में पत्थर , सोने , चाँदी ,अष्ट धातु व अन्य धातुओ की मूर्ति बनाकर या फोटो और तस्वीरों के माध्यम से पूजा की जाती है | जब कोई मूर्ति खंडित हो जाती है तो […]

Read more

हिन्दू धर्म में पाँच पवित्र चीजे

पाँच चीजे तो पवित्र और पूजनीय है : पंचामृत : पंचामृत में गाय का कच्चा दूध , शहद , शक्कर  , दही और घी (घृत)  का मिश्रण होता है | यह पंचामृत देवी देवताओ को नहलाने के लिए काम में लिया जाता है | पूजा में  प्रसाद के रूप में इसका  विशिष्ट स्थान है | पाँच पवित्र नदिया : हमारे […]

Read more

गणेश अष्ट नामाष्टक –स्त्रोत की महिमा

गणेश जी के मुख्य नाम

गणेश पुराण के अनुसार भगवान श्री गणेश के अष्ट नाम इस तरह है : गनेशमेकदंत च हेरम्बम  विध्ननाशकं लम्बोदरं शूर्पकर्णम  गजवक्त्रं गुहाग्रजम || गणेश एकदंत , हेरम्ब  , विध्ननाशक ,लम्बोदर ,शूर्पकर्ण , गजवक्त्र ,गुहाग्रज ये आठ नाम श्री गणेश के अष्ट नामाष्टक –स्त्रोत है | गणेश  अष्ट नामाष्टक –स्त्रोत की महिमा : इन नमो की महिमा अति उच्चतम स्तर की […]

Read more

नरक दिखाने वाला मंदिर

नरक का नजारा दिखाने वाला मंदिर

आज हम एक ऐसे विचित्र मंदिर की बात करेंगे जो हमारे मन में भक्तिमय माहौल नही बल्कि कौफ भर देता है | इस मंदिर में देवी देवताओ की मुस्कान भरी प्रतिमा नही बल्कि उनके द्वारा दंड देने वाली मूर्तियाँ स्थापित है | हमारे 18 महापुराणों में से एक है गरुढ़ पुराण | इस पुराण में विस्तार से बताया गया है […]

Read more

दुर्योधन के मंदिर और पूजा

दुर्योधन की पूजा

बहुत से लोगो का मत है की महाभारत काल में दुर्योधन बुराई का प्रतीक लोभी और दुष्ट था | राज्य में राजा बनकर राज करने के लिए इन्होने बहुत सी सही गलत चाले चली | पर भारत के ऐसे बहुत सारे स्थान ऐसे है जहा दुर्योधन को पूजा भी जाता है | दुर्योधन के मंदिर कहाँ कहाँ है : उत्तरकाशी […]

Read more

कैसे जन्मी माँ नर्मदा नदी

नर्मदा नदी का अवतरण कथा

नर्मदा नदी की कहानी – शिव से जन्म   : एक बार भोलेनाथ अपनी घोर तपस्या में व्यस्त थे , उनका शरीर अति ग्रीष्म हो चूका था | इसी ग्रीष्मता से उन्हें पसीना आने लगा और उस पसीने से एक नदी प्रकट हुई | यह नदी अत्यंत प्राकृतिक सौन्दर्य की प्रतीक थी | जिसकी सुन्दरता से उमा और शिव अति […]

Read more

शरद पूर्णिमा की महिमा महत्व और पूजा विधि

सभी पूर्णिमा में शरद पूर्णिमा का महत्व अत्यधिक है | हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन मास की पूणम को आने वाली पूर्णिमा शरद पूर्णिमा के नाम से जानी जाती है | मान्यता है की पुरे साले भर में बस इसी दिन चंद्रमा अपनी सभी सोलह कलाओ से पूर्ण होता है | यानि की सबसे ज्यादा चांदनी वाली रात | साथ […]

Read more

पत्नी के श्राप के कारण है शनि की दृष्टि कुपित

भगवान शनिदेव की दृष्टि से सभी मनुष्यों में डर है क्योकि शनि की दृष्टिसे उन्हें जीवन में उतार चढाव शुरू हो जाते है | गणेश पुराण में एक अध्याय है जिसमे एक कथा से ज्ञात होता है की शनि की ऐसी दृष्टि कैसे बनी : भगवान शनिदेव शुरू से ही श्री कृष्ण के परम भक्त रहे है | वे उनकी […]

Read more

शिवजी को श्राप मिला इसलिए कटा गणेश का सिर

गणेश पुराण में बताया गया है की विध्नो को दूर करने वाले भगवान श्री गणेश का सिर एक श्राप के कारण अलग हुआ था | आइये जानते है इसके पीछे की पौराणिक कथा : एक बार भगवान शिव शंकर ने अपने क्रोध में आकर सूर्य को अपने त्रिशूल से मार गिराया | इस कारण इस समस्त संसार में अंधकार छा […]

Read more

क्यों गणेश जी को तुलसी नही चढ़ाई जाती ?

गणेश जी की पूजा में तुलसी नहीं

गणेश पूजा में तुलसी नही चढ़ती गणेश जी की पूजा में विशेष ध्यान रखना चाहिए की कभी भी गजानंद के तुलसी जी नही चढ़ाई जाती है | एक पौराणिक कथा के अनुसार एक बार तुलसी जी और गणेश ने एक दुसरे को श्राप दे दिया था तभी से गणेश भगवान की पूजा में तुलसी का प्रयोग नही करते है | […]

Read more
1 82 83 84 85 86 112