गुरु दत्ता की तपोभूमी माउंट आबू

भगवान दत्तात्रेय तपोस्थली

माउंट आबू पर की दत्तात्रेय ने अपनी तपस्या : राजस्थान का पहाड़ियों से भरा हिल स्टेशन माउंट आबू पर एक गुरु शिखर पर्वत सबसे ऊँची चोटी है | यह आस पास से लगभग 15 किमी ऊँचा है | यह जगह अत्यंत शांत और शक्तियों को प्राप्त करने की स्थली है | कहते है इसी जगह पर दत्तात्रेय ने 5 हजार […]

Read more

वाराणसी के घाट

वाराणसी काशी मंदिर

वाराणसी शहर अलग अलग नामो से जाना जाता है | कोई इसे काशी तो कोई बनारस कह कर पुकारते है | यह उत्तर प्रदेश का एक धार्मिक और पौराणिक शहर है | इसी शहर में प्रयाग घाट गंगा नदी के किनारे बसा हुआ है | इसके अलावा 83 घाट और भी है | काशी शिव की नगरी है और यहा […]

Read more

ऋषिकेश दर्शन

ऋषिकेश दर्शन

देहरादून से 43  किमी दक्षिण-पूर्व में और  हरिद्वार से लगभग 25  किमी उत्तर  की दुरी शिवालिक पहाड़ियों की तलहटी पर ऋषिकेश स्थित है | यहा गंगा पहाड़ो से उत्तर के समतल मैदानों में आती है | हरिद्वार में आने वाले भक्त इस जगह भी जरुर आते है | इस जगह को ही छोटे चार  धाम  केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री […]

Read more

भादवा माता का चमत्कारी मंदिर

माँ भादवा मंदिर

माँ अर्थात  ममता बरसाने वाली वो शक्ति जिसके समान दुनिया में ओर कोई नहीं है | अपने बच्चो की रक्षा करने वाली इस ममतामई शक्ति का कोई पार नही है | यह कभी काली बनकर तो कभी दुर्गा बनकर अपने बच्चो की रक्षा करती है | ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पर विराजमान इनके मंदिर हर दिन भक्तो के सैलाब से उमड़े […]

Read more

ऋषिकेश के मंदिर

ऋषिकेश दर्शन

प्रकृति प्रेमियों के लिए ऋषिकेश स्वर्ग से कम नही  है। हरिद्वार में आने वाले यहा जरुर आते है |  ऊँचे पहाड़ , पहाड़ से निकलने वाली पवित्र गंगा , त्रिवेणी में संगम और राम और  लक्ष्मण झूले का आनंद आपको यहा बार बार आने के लिए प्रेरित करता है | ऋषिकेश में दर्शनीय धार्मिक स्थल लक्ष्मण झूला गंगा नदी के […]

Read more

यमुनोत्री धाम यात्रा में दर्शनीय स्थल

यमुनोत्री यात्रा

यमुनोत्री उत्तर के चार धामों मे से एक प्रमुख धाम है | यमुना नदी को सूर्य की पुत्री बताया गया है इसी कारण इसका ने नाम सूर्यपुत्री भी है |   पास में ही कालिंदी पर्वत जहा से यमुना झील के रूप में निकलती है | यहा पानी साफ़ और बर्फ से बना हुआ है | गंगोत्री की तरह ही यहा […]

Read more

अष्ट चिरंजीवी मंदिर उज्जैन

हिंन्दु शास्त्रों के हिसाब से आज भी इस धरती पर अष्ट चिरंजीवी वास करते है | यह किसी श्राप या किसी वरदान के कारण अमर है और सदियों से जीवन व्यतीत कर रहे है | जाने कौन कौन से यह आठ चिरंजीवी | अष्ट चिरंजीवी मंदिर उज्जैन शिप्रा नदी के किनारे बसी उज्जैन नगरी में गुमानदेव हनुमान जी के मंदिर […]

Read more

धनतेरस पर कुबेर और यम की पूजा

धनतेरस पर कुबेर की पूजा

धनतेरस का त्यौहार दिवाली के दो दिन पहले आता है | तेरस को आने वाला और धन बढ़ाने वाले इस त्यौहार का नाम इसी कारण धनतेरस रखा गया है |  यह दिन धन के देवता कुबेर के पूजन का दिन माना जाता है | इस दिन सोना चांदी और बर्तन खरीदने से बैभव में बढ़ोतरी बताई जाती है | इस […]

Read more

भारत के चार धाम

भारत में चार धाम की यात्रा करना हिन्दू धर्म में मोक्षकारी बताया गया है | यह चारो धाम साक्षात् ईश्वर का वास है जहा श्रद्दा और भक्ति का अनुपम मिलन होता है | देश भर में इन धामों की मान्यता है | यहा की यात्रा करके मन आस्था की गंगा में गोता लगाता है | चारधाम की स्थापना आद्य गुरु […]

Read more

गुरु दत्ता के मुख्य मंत्र

गुरु दत्तात्रेय मंत्र

भगवान दत्तात्रेय के मंत्र दत्ता को गुरु कहा गया है और गुरु का दिन होता है गुरूवार और पूर्णिमा | अत: गुरु दत्तात्रेय की पूजा आराधना विशेष रूप से गुरूवार और गुरु पूर्णिमा को करनी चाहिए | गुरुवार और हर पूर्णिमा की शाम भगवान दत्तात्रेय  की उपासना में विशेष मंत्र का स्मरण बहुत ही शुभ माना गया है। इनकी मूर्ति […]

Read more
1 41 42 43 44 45 59