काले तिल के चमत्कारी उपाय

काले  तिल पूजा में काम में लिए जाने वाली पवित्र चीजो में से एक है | भगवान शिव और शनिदेव इनसे अति शीघ्र प्रसन्न होकर आपकी मनोकामनाओ को पूर्ण करते है | ज्योतिष विज्ञान में काले तिल के कारगर टोटके और उपाय बताये गये है | 1) शिवलिंग पूजा और काले तिल शिव महापुराण में बताया गया है की यदि […]

Read more

चूहे ने करवाया था श्री गणेश का विवाह

सुनने में अजीब लगता है पर जी हाँ , यही सत्य है | प्रथम पूज्य श्री गणेश का विवाह एक चूहे ने ही करवाया था | पौराणिक कथा के माध्यम से जानते है इसके पीछे की पूरी कहानी | गणेश जी के विवाह से जुडी पौराणिक कथा गणेश जी का मुख गजरुपी होने से कोई भी कन्या उनसे विवाह करने […]

Read more

जगन्नाथपूरी रथयात्रा से जुडी रोचक बाते

भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा की प्रतिमाओं को तीन अलग-अलग दिव्य रथों में नगर भ्रमण करवाया जाता है | यह रथ यात्रा दो किमी की दुरी पर गुंडिचा मंदिर पर समाप्त होती है | लाखो भक्त इस धार्मिक रथ यात्रा का हिस्सा बन कर पूण्य के भागी बनते है | गुंडिचा मंदिर में करते है 7 दिन आराम […]

Read more

शनि अमावस्या के उपाय

भगवान शनि देव की जिस भक्त पर कृपा हो जाती है , उस भक्त की कुण्डली में दुसरे ग्रहों के या राहु केतू के दोष को भी शनि देव अपनी कृपा से सही कर देते है | धार्मिक ग्रंथो में इनकी पूजा का दिन शनिवार और अमावस्या को बताया गया है | पढ़े : साल 2018 में अमावस्या के दिन […]

Read more

33 करोड़ नही 33 कोटि देवी देवता

हमारे सनातन धर्म में एक भ्रम फैला हुआ है की हमारे देवी देवताओ की संख्या 33 करोड़ है | यदि पुराणों और ग्रंथो को उठाकर देखे तो कही भी देवी देवताओ की संख्या 33 करोड़ नही बताई गयी है | फिर यह भ्रम कैसे फैला किसने फैलाया | संस्कृत के एक शब्द ‘ कोटि ‘ से फ़ैल गया है भ्रम […]

Read more

भगवान विष्णु करते है रक्षा – नारायण कवच

त्रिदेवो में भगवान विष्णु को जगत का पालनहार बताया गया है | यह भरण पोषण करने वाले देवता है | यदि आपको आर्थिक रूप से मजबूत होकर वैभवशाली जीवन जीना है तो भगवान श्री विष्णु और उनकी पत्नी धन की देवी माँ लक्ष्मी की कृपा का पात्र बनना ही पड़ेगा | विष्णु को हम हरि , नारायण आदि नामो से […]

Read more

दैत्यों के गुरु शुक्राचार्य से जुडी मुख्य 10 बाते

हमारे धार्मिक ग्रंथो के अनुसार प्राचीनकाल से ही मनुष्य जीव जन्तुओ दानवो देवताओ का अस्तित्व था | देवताओ के गुरु बृहस्पति तो दैत्यों के गुरु शुक्राचार्य थे | कौन थे गुरु शुक्राचार्य शुक्राचार्य ने दीक्षा देकर कई दैत्यों को तीनो लोको का राजा बनाया था | शुक्राचार्य ने भगवान शंकर की तपस्या से मृत संजीवनी विद्या की प्राप्ति की और […]

Read more

दंडासन विधि और लाभ

दण्डासन करने का तरीका सबसे पहले जमीन पर पैरो को सीधे फैला कर  बैठ जाये | पैरो की उंगलियों को अन्दर की तरफ खींचे और तलवे को बाहर जाने दे | अपने दोनों हाथो को नितम्ब के बगल में रखे | आपकी कमर सीधी होनी चाहिए | मन को एकाग्रचित रखे | यह अभ्यास अपनी क्षमता के अनुसार 5 मिनिट […]

Read more

सिद्धासन

यह आसन साधू संतो द्वारा सिद्ध माना जाता है और बैठने के सभी मुख्य आसनों में सबसे उच्च स्थान रखता है | यह आसन सभी 72 हजार नाड़ियों को शुद्धिकरण करने की क्षमता रखता है | यही कारण है की सभी आसनों में यह सर्वश्रेष्ठ माना जाता है | सिद्धासन में बैठने की विधि सबसे पहले जमीन पर चटाई बिछा […]

Read more

वज्रासन आसन विधि

वज्र का अर्थ है मजबूत अत: वज्रासन आसन के द्वारा शरीर के अंगो को शक्तिशाली बनाया जाता है | इस आसन के द्वारा सम्पूर्ण पैर मजबूत और ताकतवर बनता है | यह पाचन तंत्र को सही करता है और गैस अपच कब्ज जैसी बीमारियों को दूर करता है | कैसे करे वज्रासन – विधि ज्ञान वज्रासन पहला एक योगासन है […]

Read more
1 41 42 43 44 45 83