भगवान सत्यनारायण की व्रत कथा

सत्यनारायण गुरूवार व्रत कथा एक बार योगी नारद मुनि जी ने मृत्युलोक के प्राणियों को अपने-अपने कर्मों के अनुसार तरह-तरह के दुखों से परेशान होते देखा.  वे ये देखकर अत्यंत दुखित हुए और उन्हें जिज्ञासा हुई की इस दुःख से कैसे पार पा सकते है . वे अपने परम आराध्य नारायण के धाम चले गये और इस पीड़ा से दूर […]

Read more

क्यों दिया राक्षस विभीषण ने राम का साथ

राक्षस विभीषण ने क्यों दिया राम का साथ रामायण में आपने देखा और पढ़ा होगा की विभीषण असुर कूल के थे फिर भी उन्होंने अपने असुर भाइयो रावण और कुंभकर्ण  का साथ ना देकर विष्णु के अवतार श्री राम का साथ दिया | आखिर कैसे एक असुर अपने भाइयो के प्राण संकट में डाल सकता है | आइये आज जानते […]

Read more

सिद्ध तंत्र पीठ श्री काल भैरव मंदिर रतनपुर छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में पौराणिक नगरी रतनपुर में आदिशक्ति महामाया कौमारी शक्तिपीठ के रूप में विराजमान है वही उनके रक्षक भैरव नाथ का प्रवेश द्वार पर मंदिर स्तिथ है | यह मंदिर  सिद्ध तंत्र पीठ श्री काल भैरव मंदिर  से विख्यात है | यह बिलासपुर रतनपुर मार्ग में दाहिनी तरफ है | हजारो भक्त भैरव के दर्शन करने और अभीष्ट कामना की […]

Read more

आगरा में हनुमानजी की इस मूर्ति के सामने कोई आया तो हो जाएगा भस्म

आगरा में हनुमान जी का मंदिर साल में एक बार खुलता है कलयुग में भी अमर देवता श्री राम के परम भक्त हनुमान के देश में कई प्रसिद्ध मंदिर है और उन सभी के किस्से अपने आप में अलग है | पर आज हम जिस सिद्ध हनुमान मंदिर की बात करने वाले है वो है आगरा में स्तिथ ऐसा मंदिर […]

Read more

विवाह पंचमी का क्या है खास महत्व

विवाह पंचमी का महत्व मार्गशीर्ष शुक्ल पंचमी को अयोध्या के राम ने माता सीता के साथ विवाह किया था तब से यह तिथि को राम जानकी विवाहोत्सव के रूप में मनाया जाता है . इसे विवाह पंचमी के नाम से कहते हैं. भगवान राम आदर्श पुत्र और मानवता के प्रतिक जबकि लक्ष्मी रूप में शक्ति  सीता थी | यह आदर्श […]

Read more

भगवान शनि की पत्नियों के नाम स्मरण से दूर होते है शनि दोष

शनि की पत्नियों के नाम के मंत्र भगवान शनि देव सूर्य और भगवान विश्वकर्मा की पुत्री छाया के पुत्र है | अपने गुरु शंकर भगवान की तपस्या करके इन्हे नवग्रह का राजा का पद प्राप्त हुआ है | इन्हे मनुष्य के कर्मो के आधार पर दंड देने का भी कार्य दिया गया है | पीपल के पेड़ में शनि  निवास […]

Read more

वास्तु अनुसार चांदी के हाथी के लाभ

चांदी के हाथी के लाभ वास्तु अनुसार वास्तु शास्त्र के अनुसार चांदी का हाथी धन को अपनी तरफ आकर्षित करने है | इसे घर , दुकान या व्यावसायिक जगह लगाने से कई फायदे होते है | आज हम बात करते है चांदी के हाथी को घर या दुकान में रखने से होने वाले लाभ के बारे में | 1. चांदी […]

Read more

पितरो की तस्वीर घर में लगाने से पहले ध्यान दे

पितृ देवी देवता की तस्वीर किस दिशा में लगाये हमारे पूर्वज मृत्यु बाद पितृ देवी देवता बन जाते है । हम उनके सम्मान में अपने घर में उनकी यादो के लिए उनकी तस्वीर लगाते है | वास्तु शास्त्र के अनुसार हमें इन फोटो को लगाते समय दिशाओ का विशेष ध्यान रखना चाहिए | इन बातो का ध्यान रखकर हम पितरो […]

Read more

महावीर जयंती और भगवान महावीर स्वामी से जुड़ी रोचक 10 बाते

महावीर जयंती पर जाने महावीर स्वामी से जुडी रोचक बाते जन्म और माता पिता भगवान महावीर जैन धर्म के सबसे महान 24वे तीर्थकर थे | इन्होने जैन धर्म को काफी आगे बढाया | 29 मार्च 2018 यानि हिन्‍दू कैलेंडर के अनुसार चैत्र मास के 13वें दिन महावीर ने जन्‍म लिया था | इनका बचपन का नाम वर्धमान था और इनके माता […]

Read more

रणथम्भौर स्थित त्रिनेत्र गणेश मंदिर

रणथम्भौर गणेश मंदिर शिव पार्वती के पुत्र और प्रथम पूज्य श्री गणेश कलियुग के प्रसिद्ध देवताओ में से एक है . विध्न विनायक चिन्तामण गणेश भी कहलाते है जो अपने भक्तो की सभी कठिनाइयों को दूर करते है | भारत के प्रसिद्ध गणेश मंदिरों में राजस्थान के  सवाई माधौपुर जिले में स्तिथ रणथंभौर त्रिनेत्र गणेश मंदिर एक मुख्य स्थान रखता है […]

Read more
1 2 3 4 5 90