गायत्री मंत्र – जप विधि और फायदे

हमारे सनातन धर्म में मंत्र जप एक ऐसा उपाय है, जिससे हम आध्यातिम्क शक्ति के करीब पहुंचते है और ईश्वर की कृपा से हम अपनी समस्याओ को दूर कर पाते है । शास्त्रों में मंत्रों को बहुत शक्तिशाली और चमत्कारी बताया गया है। सबसे ज्यादा प्रभावी मंत्रों में से एक मंत्र है गायत्री मंत्र। यह सदियों से उच्चतम मंत्रो में […]

Read more

काले घोड़े की नाल प्रभावशाली उपाय

काले घोड़े की नाल के प्रभावशाली उपाय और टोटके तंत्र क्रियाओं में अनेक वस्तुओं का प्रयोग किया जाता है। काले घोड़े की नाल भी उन्हीं में से एक है। ऐसा मानते हैं कि तंत्र प्रयोग में यदि काले घोड़े की नाल का प्रयोग किया जाए तो असंभव कार्य भी संभव हो जाता है। तंत्र शास्त्र के अनुसार, वैसे तो किसी […]

Read more

दर्पण (आईना ) से जुड़े वास्तु शास्त्र के नियम

भूलकर भी घर में इन जगहों पर ना रखें दर्पण दर्पण हर किसी के घर में होना आम बात है। आप रोजाना इसके सामने खड़े होकर अपना चेहरा संवारते होंगे। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि क्या आपका दर्पण वास्तु के अनुसार सही स्थान पर रखा है? यह दर्पण गलत जगह पर रह कर आपकी आर्थिक परेशानी को बढ़ा […]

Read more

56 भोग कौनसे होते है – जाने उनके नाम

भगवान की भोग प्रसादी में 56 भोग चढ़ाया जाता है | 56 भोग का महत्व और कथा भगवान श्री कृष्ण के बाल समय से जुडी हुई है |   भक्तो के मन में यह उत्सुकता रहती है की वे 56 प्रकार के भोग कौनसे कौनसे होते है | यह मीठे रसगुल्ले से लेकर इलायची तक होती है | ज्यादातर यह […]

Read more

क्यों लगता है भगवान के 56 भोग और महत्व

क्यों भगवान के 56 भोग चढ़ाया जाता है – महत्व और कहानी 56 भोग प्रसादी का कारण सबसे ज्यादा भगवान कृष्ण से जुड़ा हुआ है | यह प्रसंग उनके बालसमय का है जब उन्होंने ब्रज की रक्षा के लिए गोवर्धन पर्वत को धारण किया था | भगवान को लगाए जाने वाले भोग की बड़ी महिमा है। इनके लिए 56 प्रकार […]

Read more

पूजा में अगरबत्ती को क्यों नही जलाना चाहिए

हिन्दू धर्म  पूजा पाठ में आरती का महत्व अत्यधिक है | हम देवी देवताओ की आरती में धुप दीप और अगरबत्ती जलाते है | इससे रौशनी और सुगंध दोनों होते है | पूजा में पंचोपचार विधि में भी धुप दीपक की महिमा बताई गयी है | पर आपने कुछ लोगो से सुना होगा की भगवान की पूजा में कभी अगरबत्ती […]

Read more

क्यों मनाते हैं दशहरा ? पौराणिक महत्व और महिमा

अधर्म पर धर्म की जीत का प्रतीक है दशहरा त्यौहार जिसे विजयदशमी भी कहा जाता है  | हमारे शास्त्र और पुराणों में इस पर्व का महत्व और महिमा का गुणगान किया गया है | इसे असत्य पर जीत के रूप में मनाया जाता है | इसे सम्पूर्ण भारत में उत्साह और धार्मिक निष्ठा के साथ मनाया जाता है। दशहरा  के […]

Read more

नवरात्रि पूजा के उपाय राशि अनुसार , मिलेगी कृपा

नवरात्रि के नौ दिनों में माँ दुर्गा के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है। वैसे तो माता के किसी भी रूप की पूजा सदैव शुभ फलदायी होती है। लेकिन ज्योतिष शास्त्र में राशियों के अनुसार किसी विशेष माता स्वरुप की पूजा का प्रावधान है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि इंसान अपनी राशि अनुसार देवी के किसी विशेष स्वरुप […]

Read more

सूर्य मंदिर, ग्वालियर

भारत के प्रसिद्ध सूर्य देवता के मंदिर में एक है मध्य प्रदेश के ग्वालियर में स्तिथ सूर्य मंदिर | हर वर्ष लाखो की संख्या में भक्त यहा भगवान सूर्य के दर्शन करने आते है | पढ़े : क्यों शनि अपने ही पिता सूर्य के शत्रु बने मंदिर का निर्माण और इतिहास इस मंदिर का निर्माण उड़ीसा के सूर्य मंदिर कोणार्क […]

Read more

सूर्य देव की पूजा में रखें इन बातों का विशेष ध्यान

हिन्दू धर्म के 5 मुख्य देवता में से एक है साक्षात् दिखाई देने वाला सूर्य देव | इनकी पूजा में सूर्य को जल चढ़ाना विशेष रहता है | सप्ताह में आने वाले रविवार का दिन इनकी पूजा के लिए मुख्य माना गया है | सूर्य उपासना विधि से हिन्दू भक्त सुबह उनकी पूजा करते है | ये ज्ञान, सुख, स्वास्थ्य, […]

Read more
1 2 3 4 59