शिव महापुराण

शिव महापुराण

18 महापुराणो में शिव महापुराण को सर्वोपरि बताया गया है | यह पुराण ही सभी महापुराणो का सार है | इस पुराण का चेतन पाठ करने से सभी पापो का अंत हो जाता है | मन शिवमय होकर शिव भक्ति और शिव लीला में लीन हो जाता है | हम सभी यह तो जानते है की शिवजी को संहारकर्ता कहा […]

Read more

देवी देवता और उनके वाहन

हिन्दू देवी देवता

जाने हिन्दू देवी देवताओ के वाहन और उनके होने का प्रयोजन भगवान शिव : इनका वाहन बैल है जिसे नंदी कहा जाता है | नंदी बहुत ही मेहनती शांत और भोला प्राणी है जैसे उनके सवार शिवजी शांत और भोले है | माँ दुर्गा : माँ दुर्गा का वाहन है शेर | इसी के कारण इन्हे भक्त शेरोवाली माता भी […]

Read more

क्यों गणेश जी की पीठ के दर्शन नही करे

गणेश पीठ के दर्शन

शिव पार्वती पुत्र गणपति की पूजा सबसे पहले की जाती है | इनके दर्शन करना विध्नो को दूर करता है | फिर भी किसी भी भक्त को गणेश जी की पीठ के दर्शन नही करने चाहिए | गणेशजी की पत्नियाँ रिद्धि सिद्धि पुत्र शुभ लाभ और खुद विघ्न विनाशक अर्थात ऐसे देव जो सभी सुख समृधि ज्ञान समझ अपने भक्तो […]

Read more

गणेश जी क्यों दूर्वा क्यों चढ़ाई जाती है ?

गणेश जी को दूर्वा चढ़ाना

गणेश जो को दूर्वा दूब क्यों चढ़ाई जाती है : क्यों प्रसन्न होते है गणेशजी दूर्वा से : दूर्वा एक तरह की घास होती है जो प्राय बाग़ बगीचों में मिल ही जाती है | यह दूर्वा भगवान् श्री गणेश को बहूत प्यारी है | गणेशजी को दूर्वा चढ़ाना बहूत ही शुभ और लाभकारी माना जाता है | एकमात्र गणेश […]

Read more

सूर्य उपासना कैसे करे

सूर्य की पूजा

सूर्य उपासना करने की सही विधि सूर्य जो अन्धकार को दूर करने वाला और रोशनी प्रदान करने वाला साक्षात् देव है | हिन्दू धर्म में इन्हे सूर्य देव की संज्ञा दी गयी है | धार्मिक आस्था है की इनकी नित्य पूजन से मनुष्य को समृद्धि , मान सम्मान , यश की प्राप्ति होती है | सूर्य अंतःकरण में ज्ञान की […]

Read more

तुलसी बताती है आने वाली मुसीबत के बारे में

तुलसी के पौधे का संकट बताना

घर में लगी तुलसी बताती है आने वाली मुसीबत के बारे में : हिन्दू धर्म में तुलसी का पौधा बहूत ही शुभ माना गया है | हर घर के आँगन में तुलसी का पौधा होना चाहिए और सुबह शाम पूजा के समय इनकी पूजा की जानी चाहिए | इन्हे देवी का स्थान प्राप्त है | विज्ञान से देखे तो तुलसी […]

Read more

भगवान और उनके अर्पण करने वाले पुष्प

पुष्प अर्पण भगवान् को

पुष्प ईश्वर को पूजा में चढ़ाये जाते है | पुष्प सुगंध और सुन्दरता  का प्रतीक है | हर देवी देवताओ को अलग अलग उनके अनुसार पुष्प अर्पण किये जाते है | किस देवी देवता को कौनसा पुष्प चढ़ाये माँ काली – इनको अड़हुल का पुष्प अति प्रिय है। कहते है 108 लाल अड़हुल के फूल अर्पित करने से माँ प्रसन्न होकर भक्तो की मुरादे पुरी […]

Read more

क्यों रखी जाती है शिखा चोटी

शिखा ( चोटी ) रखने के पीछे के कारण : Benefits Of Keeping Shikha or Choti on Head in Hindi . प्राचीन काल में लोग सिर पर शिखा रखते थे , आज भी कई ब्राह्मण गुरु इसी तरह सिर पर शिखा रखकर इस परंपरा का पालन कर रहे है | यह आर्यों की पहचान और परम्परा का घोतक है | […]

Read more

सोने की लंका का बनना और भस्म होना पार्वती की इच्छा

स्वर्ण लंका दहन पार्वती श्राप से हुआ

माँ पार्वती के लिए बनी थी सोने की लंका : हम सभी जानते है की सतयुग काल में रावण की एक सोने की लंका थी जिसे हनुमान जी ने अपनी पुंछ में आग लगाकर जला दिया था | पर क्या आप जानते है की यह लंका शिवजी के आदेश पर माँ पार्वती के लिए बनाई गयी थी ?? जाने इसके […]

Read more

तीर्थ यात्रा में ध्यान रखे यह बाते

तीर्थ यात्रा में ना भूले

तीर्थ दर्शन की परंपरा काफी पुराने समय से चली आ रही है। मान्यता है कि तीर्थ यात्रा से जाने-अनजाने में किए गए पापों से मुक्ति मिल जाती है। इस यात्रा से व्यक्ति को अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है। शास्त्र कहते है की आयु के एक पड़ाव पर तीर्थ यात्रा करना सही रहता है , यह आयु पड़ाव तब आता […]

Read more
1 113 114 115 116 117 119