महालक्ष्मी जी का एक ऐसा मंदिर, जहां प्रसाद के रूप में मिलते हैं सोने चांदी

इस मंदिर में सोना चांदी प्रसाद में बांटे जाते है

Devi Lakshmi Ka Esa Mandir Jaha Prasad Me Milte hai Sona Chandi

हिंदू धर्म में बहुत से ऐसे मंदिर हैं जो अपनी विशेषताओं और अनोखी मान्यताओ के कारण  विश्वभर में प्रसिद्ध हैं। मंदिरों में भक्त अपने आराध्य देवी देवता के आगे माथा टेकने आते है और उन्हें प्रसाद , माला , झंडे , गिफ्ट , नारियल , सोना -चांदी ,रूपए आदि अर्पित करते है | पुजारी भगवान को भोग लगाकर फिर से उन्हें प्रसाद दे देते है | पर आज हम आपको एक ऐसे अनोखे प्रसाद के बारे में बताने जा रहे है जिसमे  बहुमूल्य  धातुए और आभूषण शामिल है |

पढ़े : भारत में माँ लक्ष्मी के प्रसिद्ध और मुख्य मंदिर

लक्ष्मी मंदिर में सोना चांदी का प्रसाद

यह बात सुनकर आप आश्चर्यचकित हो  जायेंगे पर यह बिलकुल सही है | तो चलिए जानते है उस मंदिर के बारे में विस्तार से जहा यह खजाना लुटाया जाता है |

कहाँ है यह मंदिर ?

यह अनोखा मंदिर मध्य प्रदेश के रतलाम में स्तिथ है जो देवी महालक्ष्मी को समर्प्रित है | दूर दूर से भक्त माँ लक्ष्मी के खजाने को पाने के लिए इस मंदिर में आते है | इस खजाने को भरने वाले भी माँ के भक्त ही है जो दिल खोल कर इस मंदिर में सोना चांदी रूपए भेंट चढाते है | साल के कुछ दिन यहा जमा खजाने को भक्तो के लिए खोल दिया जाता है |

कब बांटा जाता है खजाना

माँ लक्ष्मी का खजाना इस महालक्ष्मी मंदिर में धनतेरस और दीपावली के समय यह महँगी चीजे भक्तो में वितरित की जाती है | माँ के दरबार भी सोने , चांदी , हीरे मोती और रुपयों से सज्जा रहता है | इन दिनों माँ के दर्शन करना भाग्योदय कराने वाले होते है |

हम सभी जानते है की माँ लक्ष्मी का अवतरण दीपावली के दिन ही हुआ था और इसी कारण इस दिन इनकी भव्य पूजा घर घर में होती है |

कब से शुरू हुई परम्परा

यह परंपरा काफी पुरानी है और कई  वर्षो से चली आ रही है  | इस मंदिर में यह परम्परा इसलिए शुरू हुई की माँ लक्ष्मी धन की देवी है और उनके अवतरण के दिवसों पर (दीपावली के आस पास  ) उनके भक्तो को उनके आशीर्वाद रूपी खजाना प्राप्त होना चाहिए | माँ लक्ष्मी के चित्रों में भी आपने देखा होगा की वे स्वर्ण वर्षा करने वाली देवी है | कनकधारा पाठ से एक बार आदि गुरु शंकराचार्य ने सोने की वर्षा करवाई थी |

क्या करते है भक्त इस खजाने का :

यह लक्ष्मी जी का खजाना भक्त अपने साथ ले जाते है और इसे कभी खर्च नही करते | इसे वे अपने घर की तिजोरी में रखते है जिससे उनके ऊपर माँ लक्ष्मी की कृपा से कभी धन की कमी नही आये |

Other Similar Posts

इस मंदिर में होती है हनुमान की स्त्री रूप में पूजा

कनकधारा स्त्रोत का पाठ इस विधि से करे , माँ लक्ष्मी भर देगी तिजोरियां

लक्ष्मी बीज मंत्र जाप विधि का प्रयोग कर प्रसन्न करे लक्ष्मी को

पीली कौड़ी के साथ हल्दी का यह टोटका , लक्ष्मी को खीच लायेगा घर में

12 राशियों के 12 लक्ष्मी प्राप्ति मंत्र

One comment

  • Fantastic experience after reading your outstanding blog. My dream is to visit this temple, And I am really glad I have found your blog. I am also pandit and check my blog best astrologer in india Thanks dear for sharing this awesome and informative article with us.
    Keep it up.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.