भादवा माता का चमत्कारी मंदिर

माँ भादवा मंदिर

माँ अर्थात  ममता बरसाने वाली वो शक्ति जिसके समान दुनिया में ओर कोई नहीं है | अपने बच्चो की रक्षा करने वाली इस ममतामई शक्ति का कोई पार नही है | यह कभी काली बनकर तो कभी दुर्गा बनकर अपने बच्चो की रक्षा करती है | ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पर विराजमान इनके मंदिर हर दिन भक्तो के सैलाब से उमड़े रहते है |

आज हम जिस जिस  धार्मिक स्थल  की बात करने वाले है वो अपने भक्तो के रोगों का नाश करके उनके स्वास्थ्य में बढ़ोतरी करती है | यह धाम है माँ भादवा का जो मध्यप्रदेश के नीमच से लगभग 18 किमी की दूरी पर है |

माँ भादवा की मोहक प्रतिमा :-

भादवा माता सुंदर चाँदी के सिंहासन पर विराजित है | प्रतिमा के निचे माँ दुर्गा के सभी 9 रूप लगे हुए है |

 ऐसे  होते हैं माँ भादवा  के इस मंदिर में चमत्कार :-

माँ भादवा अपने भक्तो के स्वास्थ्य में चमत्कारी परिवर्तन लाके उनके दुखो का हनण करती है | माँ के दरबार में देश विदेश से भक्त आते है और रात्रि में इनके आँगन में सोते है | रात को अपनी पीड़ा को हरने की कामना करते है और सुबह वे अपनी पीडाओ से मुक्त हो जाते है | साल भर भक्त यहा डेरा डाले रहते है | यहा लकवाग्रस्त व नेत्रहीन रोगी अपनी पीडाओ का निदान पाते है |

यहा की मान्यता है की रात्रि में माँ यहा फेरा लगाती है और अपने सच्चे भक्तो की पीड़ा दूर करती है |

पास की बावड़ी में है अमृत तुल्य जल :

मंदिर के पास ही एक प्राचीन बावड़ी है जिससे माँ भादवा ने जल निकला था | यह चमत्कारी जल रोगों से मुक्ति दिलाने वाला है | इस जल से स्नान करने से शारीरिक व्याधियाँ दूर होती है |

मुर्गे और बकरे भी करते है आरती :

यहा पर होने वाली नित्य आरती में  मुर्गे और बकरे भी अपनी तरफ से माँ का गुणगान करते है | इन्हे गोर से देखने पर प्रतीत होता है की यह भी माँ की भक्ति में रमे हुए है |

माँ को चढ़ावा :

रोगों से मुक्त करने वाली माँ जब भक्तो को आँखे देती है तो उन्हें भक्त सोने या चांदी की आँखे भेट करते है इसी तरफ लकवा से मुक्त होने पर सोने चांदी के हाथ या पैर माँ को भेट किये जाते है | यहा मुर्गे और बकरे भी मंदिर में छोड़े जाते है |

नवरात्रि पर भक्तो का उमड़ता है रैला  :-

माँ के सभी मंदिरों की भाति यहा भी नवरात्रि में भक्तो का जन सैलाब भरता है | दूर दूर से भक्त मेले में माँ के पावन दर्शन करने आते है और आशीष पाकर जीवन सफल बनाते है | इन दिनों विशाल मेले का आयोजन किया जाता है | आस्था का यह केंद्र में अमीर गरीब सब एक समान है |

One comment

  • दीपक राजपूत

    माँ भादवा देवी मंदिर ट्रस्ट नीमच मध्यप्रदेश मजबूर लोगो की आश्था से खिलबाड़ का केन्द्र विंदू या हिन्दू धर्म के खिलाफ कोई सडयंत्र ?? मुझे यकीन था भादवा देवी चमत्कारी है पर जा कर देखा तो पता चला भादवा देवी हत्यारी है।। मंदिर ट्रस्ट के भी क्या कहने बस बोलना ठीक न होगा लुटेरो के वारे में मैं दीपक राजपूत आस्तिक था पर जव से भादवा धाम से लौटा हूँ हर पल डर रहा हूँ की कही नास्तिक न बन जाऊ देवी ने मेरे विश्वास को छला है कहा जाता है इस मंदिर की देवी माँ है पर क्या माँ अपने शरण में आने बाले की हत्या करती है ये देवी अपने शरणार्थियो की हत्या भी कर देती है अब ज्यादा लिखना अपने ही धर्म का अपमान होगा और मुझे हिन्दू होने का गर्व है मेरा मकशद धर्म की निंदा करना नही है पर धर्म के नाम पर जो लोग ठगी धोखा धडी करते है उनको ये मेरा प्रति उत्तर है जय माँ भारती 8960920453 लेख से किसी को आपत्ति हो तो कॉल करे कृपया इस तरह की झूठ न फैलाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.