भीम इतने शक्तिशाली बलवान कैसे थे ?

पांडव पुत्रो में सबसे शक्तिशाली भीम कैसे हुए ?

भीम अति शक्तिशाली वीर योधा थे , माना जाता है की उनमे हजारो हाथियों का बल था | वे युद्ध में हाथी को हाथो से ही उठा कर अन्तरिक्ष तक फैक देते थे | बड़ी बड़ी नदियों जैसे नर्मदा आदि का प्रवाह तक बड़ी बड़ी शिलाओ से रोक देते थे | बड़े बड़े दानवो को उन्होंने अपनी शक्ति से परास्त कर दिया था |

अब जाने क्यों थी भीम में इतनी शक्ति :

बचपन में कौरव और पांडव भाई साथ साथ खेलते थे | भीम खेलने में अव्वल थे और आसानी से धृतराष्ट्र के पुत्रो कौरवो को हरा देते थे | इसी कारण सबसे बड़े कौरव पुत्र दुर्योधन भीम से इर्षा से जलने लगे | वे भीम से छुटकारा पाना चाहते थे | इसी गलत भावना में उन्होंने भीम को मारना चाहा और एक षडयंत्र रचा |
वे सभी पांडवो को गंगा किनारे ले गये और खलने लगे | दुर्योधन ने कुछ देर बाद खाने के लिए बहुत सारे व्यंजन मंगवाए और मौखा मिलने पर भीम के खाने में विष मिला दिया | भीम खाना खाकर अचेत हो गये और दुर्योधन ने भीम के शरीर को गंगा में फैक दिया | मूर्छा अवस्था में भीम नागलोक तक पहुंच गए | नागलोक के सापों ने भीम को खूब डंसा जिससे भीम के शरीर का विष कम होने लगा | होश में आने पर उन्होंने नागो को मारना शुरू कर दिया | यह बात नागो के राजा वासुकि को पता चली |


वे स्वयं भीम से मिलने उनके पास गये और उन्हें आर्यक ने पहचान लिया | आर्यक नाग भीम के नाना के नाना थे | आर्यक नाग ने उन्हें एक कुण्ड का रस पिलाया जिसमे हजारो हाथियों का बल था |
रस इतना शक्तिशाली था की भीम को आठ दिन तक नींद आती रही | नवे दिन जब उन्हें होश आया था उन्होंने सभी नागो से विदा ली और नदी से बाहर आ गये पर अब वे इतने शक्तिशाली हो चुके थे की महाबली भीम के रूप में प्रसिद्ध हुए |

Other Religious Post :

किलकारी भैरव मंदिर दिल्ली जिससे पांडवो ने बनाया था

कहाँ है दुर्योधन के मंदिर

पितृ दोष निवारण यन्त्र और मंत्र

सभी बारह ज्योतिर्लिंगों के दर्शन एक साथ करे

यमराज धर्मराज की महिमा पढ़े

भालू होते है इस देवी माँ के मंदिर की आरती में शामिल

अनोखी होली – काशी में राख से खेली जाती है महाकाल से होली

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *