गणेशजी ने दिया चंद्रमा को श्राप

गणेशजी ने दिया चंद्रमा को श्राप

क्यों गणेशजी ने दिया चन्द्रमा को श्राप :

धर्म ग्रंथ बताते है की गणेशजी के जन्मदिवस यानि गणेश चतुर्थी पर हमें चंद्रमा के दर्शन नही करने चाहिए |

यदि हम ऐसा करते है तो गणेशजी कुपित हो जाते है और हम पर झूठे आरोप लग जाते है | यह सब हुआ जब चंद्रमा को अपनी सुन्दरता पर घमंड था और उसने गजमुखी गणेश जी का अपमान किया | इसी के कारण गणेशजी ने उन्हें यह श्राप दिया |

पढ़े : क्यों गणेश जी को तुलसी नही चढ़ाई जाती है

पढ़े : गणेश का होगा कलियुग में अवतार

आइये जाने किस तरह यह कथा :

एक बार श्री गणेशजी  रात्रि के समय अपनी सवारी मूषक पर बैठकर किसी जगह से भोज करके आये थे | बहुत सारे लड्डू खाने से उनका उदर (पेट) ज्यादा ही बाहर निकल गया | वे अपनी सवारी पर अच्छे से बैठ भी नहीं पा रहे थे | यह सब आसमान पर से चंद्रमा देख रहा था |

उन्हें यह नजारा देख कर बहुत हंसी आ रही थी | रोकने के बाद भी जब उनकी यह हंसी नही रुकी तो वे जोर जोर से पेट पकड़ कर हसने लग गये | जब यह सब गणेशजी ने देखा तो उन्हें इस बात पर बहुत गुस्सा आया | उन्हें लगा की चंद्रमा ने अपनी सुन्दरता के  अभिमान के कारण उनका उपहास किया है | क्रोधित होकर उन्होंने उसी क्षण चंद्रमा को श्राप दे दिया की तुम्हे जिस चांदनी पर घमंड है वो अबसे कालिमा में बदल जाएगी |

देखते ही देखते चंद्रमा काले हो गये | उन्हें अपनी भारी गलती का अहसास हुआ और वे क्षमा याचना मांगने लगे |
यह भी पढ़े

क्यों नही करनी चाहिए गणेशजी के पीठ के दर्शन

भारत के चमत्कारी हिन्दू मंदिर और उनकी महिमा

क्यों की जाती है लक्ष्मी जी के साथ गणेश जी की पूजा

कैसे करे गणेश जी को प्रसन्न

शिवजी के महा मंत्रो कौन कौन से है

क्यों चढ़ाई जाती है गणेश जी को दूर्वा घास

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.