सूर्य को जल चढाने (अर्घ्य ) का मंत्र

यदि आप सनातन धर्म पर चलने वाले है तो उसमे बताये गये पांच देवो में से एक भगवान सूर्य को भी परम स्थान प्राप्त है | सूर्य भगवान साक्षात् दिखाई देने वाले देवता है और जीवन के लिए अत्यंत जरुरी है |


सुबह सुबह उठाकर नहाकर साफ़ और पवित्र पानी से भगवान सूर्य को अर्ध्य देना अति पावन और मंगलकारी कार्य बताया गया है | ऐसा करने से आपकी कीर्ति समाज में फैलती है , आपको यश की प्राप्ति होती है |

पढ़े : देवी देवताओ की पूजा से जुड़े मुख्य लेख

पढ़े : मकर संक्राति पर्व का महत्व

सूर्य को अर्ध्य देना और मंत्र



सूर्य देवता को जल चढाते समय ( अर्ध्य देने ) कौनसा मंत्र काम में ले

भगवान सूर्य देव को ताम्बे के पात्र से अर्ध्य दे और निम्न मंत्र का जाप करे :

  1. ऊँ घृणि सूर्याय नम: ।।
  2. ॐ सूर्य देवाय नमः ।।
  3. ॐ भास्कराय नमः ।।
  4. ॐ ऐहि सूर्य सहस्त्रांशों तेजोराशे जगत्पते। अनुकंपये माम भक्त्या गृहणार्घ्यं दिवाकर:।।
  5. ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय, सहस्त्रकिरणाय। मनोवांछित फलं देहि देहि स्वाहा : ।।

उपरोक्त मंत्र सूर्य के जल चढाते समय सीधे आपकी पूजा को सूर्य भगवान तक ले जाते है और आप उनकी कृपा के पात्र बनते है |

Also Read Other  Hinduism Article

कैसे करे भगवान सूर्य की उपासना

रविवार को ले भगवान सूर्य के दिव्य 16 नाम

सूर्य नमस्कार से होने वाले स्वास्थ लाभ

कोणार्क का सूर्य मंदिर और महिमा

हनुमानजी का सबसे चमत्कारी मंदिर – करता है भुत प्रेतों को दूर

सुबह उठकर क्या करे की दिन बहुत अच्छा जाये

सरकारी या अच्छी नौकरी पाने के कारगर टोटके और उपाय

 

 

 

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.