कैसे पता करे की घर में नेगेटिव एनर्जी का है साया

घर के सदस्यों में बढ़ रही हो अनबन | बिना कारण चेहरे पर हो उदासी और मन हो अशांत | घर के सदस्यों को स्वभाव हो चिडचिडा या फिर सभी खुद में ही रहना चाहते हो | छोटी छोटी बातो पर बड़ो से लेकर छोटो को गुस्सा आना | यह सभी संकेत बताते है घर का वातावरण नकारात्मक उर्जा ( नेगेटिव एनर्जी ) से घिर चूका है | ऐसे में सबसे जरुरी है की कैसे हम घर में सकारात्मकता को बढ़ाये |

man ho udasin

घर की बनावट , वास्तु दोषों के कारण या फिर गन्दी आदतों की वजह से घर में नकारात्मकता बढती है | मन डिप्रेशन में रहने लगता है जिसके कारण कोई भी कार्य सही तरीके से पूर्ण नही होता | आज हम यहा विस्तार से जानेगे कि कैसे पता लगाये की घर में नेगेटिव एनर्जी बढ़ चुकी है |

निचे हम कुछ ऐसे पहलु बताने जा रहे है जो बढती नकारात्मकता के बारे में संकेत देते है |

1. सुस्ती आना 

यदि आप थके थके महसूस करने लगे या फिर सोते समय आपके मन में परेशानियों वाले विचार आते हो तो यह नकारात्मकता के दायरे में आने की तरफ ईशारा करते है |

2. एक ही गलती बारम्बार होना

हम सभी से गलतियां होती है पर हम अपनी गलतियों से सीख लेते है और भविष्य में गलतियां दोहारने से बच जाते है | पर यदि कोई व्यक्ति नकारात्मक उर्जा का शिकार है तो वो एक ही गलती बार बार करने लगता है | ऐसे लोगो को तब गलती पर डाटने से ज्यादा प्रेम से उन्हें समझाना चाहिए |

3. बुरी घटनाओं के ख्यालात आना

tension depression

नेगेटिव एनर्जी से घिरा व्यक्ति स्ट्रेस का शिकार होता है और यह तनाव उसके गलत सोचने समझने का ही परिणाम होता है | हर समय सोते जागते समय उसे किसी अनहोनी के होने का डर सताता रहता है | ऐसे व्यक्ति को आप यदि गुस्से में सही बात भी समझायेंगे तो वे इसे उलटा ही लेंगे | ऐसे व्यक्तियों को प्यार से ही समझाया जा सकता है |

4. काम में नही लगे मन

यदि कोई व्यक्ति नकारात्मकता का शिकार है तो वो अपना कार्य मन से नही कर सकता है | यदि विद्यार्थी है तो अच्छे से मन लगाकर पढ़ नही पायेगा | मन की अस्थिरता ही गलत परिणाम लाती है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.