Sakath Chauth 2019: जानें- पूजा का मुहूर्त, महत्व और विधि-विधान

सकट चौथ भगवान गणेश को समर्प्रित व्रत पर्व

Sakath Chaturthi Fast Importance इस साल 2019 में संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत 24 जनवरी 2019 गुरुवार को पड़ रही है। आइये जानते है इस चौथ से जुड़ी रोचक बाते और विधि विधान .

माघ मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को सकट चौथ के नाम से जाना जाता है | इसके दुसरे नाम  वक्रतुण्डी चतुर्थी, माही चौथ या तिलकुटा चौथ भी है | इस चौथ का महत्व यह है कि इस दिन गणेश जी की पूजा अर्चना और व्रत करने से व्यक्ति के सभी संकट दूर होते है |

पढ़े : गणेश चौथ की कथा और व्रत विधि
पढ़े : बुधवार को गणेश जी को प्रसन्न करने के उपाय

चंद्रमा को अर्ध्य देकर होगा व्रत पूर्ण
गुरूवार को आने वाली चौथ पर व्रत करने वाले चंद्रमा को अर्ध्य देकर अपना व्रत खोलते है | इस दिन 24 जनवरी गुरूवार के दिन चंद्रमा के उदय होने का समय रात्रि 8.20 पर बताया जा रहा है |

ganesh ji poojan sakat chaturthi

संकष्टी व्रत विधि
* सुबह ब्रहम मुहूर्त में नहा ले और स्वच्छ कपड़े पहने | अब गणेश जी को स्नान कराके वस्त्र पहनाये और दूर्वा ,पुष्प रोली ,मोली , नैवध्य धुप दीप से गणेश जी की पूजा अर्चना करे | संकट चतुर्थी व्रत का संकल्प ले कर इनकी कहानी सुने | गणेश जी को मोदक का भोग जरुर लगाये | फिर गणेश जी की आरती उतारे |
* इस दिन संकट दूर करने वाले मंत्र ॐ गं गणेश्वराय विघ्ननायकाय नमः का जप करे |
*रात्रि में चंद्रोदय के बाद चन्द्र देवता को अर्ध्य दे और फिर अपना व्रत तोड़े |

Other Similar Posts

क्यों गणेश जी को तुलसी नही चढ़ाई जाती ?

क्यों गणेश जी को प्रिय है दूर्वा

कपूर के यह चमत्कारी टोटके कर देंगे आपको निहाल

कैसा हो बच्चो की पढाई का कमरा – वास्तु टिप्स

क्यों गणेशजी के पीठ के दर्शन नही करने चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.