रंगपंचमी पर्व का क्या महत्व है

Importance of Rang Panchami Festival – The day of Good bye to holi .

फाल्गुन के बाद नये मास  की शुरुआत हो चुकी है और चैत्र मास में आने वाले पर्व और त्योहार में पहला पर्व रंग पंचमी का ही है | यह कृष्ण पक्ष की पंचमी के दिन मनाई जाती है जो 2019 में 25 मार्च को पड़ रही है | अर्थात होली के पांच दिन बाद यह पर्व आता है | ऐसी मान्यता है कि इस दिन आसमान में रंग उड़ाने से तम रज का प्रभाव कम होता है और सात्विकता गुण  में बढ़ोतरी होती है |

होली की विदाई पंचमी पर

इस दिन होती है होली उत्सव की समाप्ति

कई दिन चलने वाले होली पर्व की इस दिन समाप्ति की जाती है | इस दिन ईश्वर के साथ भक्त रंग खेलते है और आकाश में रंग उड़ा कर होली की विदाई करते है | शास्त्रों के अनुसार रंग पंचमी बुरी  शक्तियों पर विजय पाने का भी पर्व है।

अलग अलग जगहों पर ऐसे मनाया  जाता है रंग पंचमी का त्योहार

~ मालवा के पठार में इस दिन जलूस निकाले जाते है जिसे गैर कहते है |

~ महाराष्ट्र में इस दिन मुख्य रूप से पूरनपोली पकवान बनाये जाते है | साथ ही मछुआरों की बस्ती में इस दिन नाच गान का कार्यक्रम रखा जाता है और शादियाँ तय की जाती है |

~ जैसलमेर में धूम धाम से  लोकनृत्यों का आयोजन होता है |

~ इंदौर में इस दिन सड़कों पर रंग भरा सुगंधित जल छिड़कते है और जलूस निकालते हैं।

Other Similar Posts

शीतलाष्टमी बासोड़ा क्यों खाते है ठंडा खाना

क्यों मनाया जाता है गणगौर का त्योहार

कामदा एकादशी व्रत का महत्व और कथा विधि

नवरात्रि पूजा के उपाय राशि अनुसार , मिलेगी कृपा

कैसे करे हनुमान जी को प्रसन्न , जाने उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.