नर्मदा जयंती का महत्व और माँ नर्मदा से जुड़ी रोचक बाते

Narmada Jayanti Festival and some important facts about this holy river .
हमारे हिन्दू धर्म में हम नदियों को भी देवी माओ की तरह पूजते है | इनका जल अमृत तुल्य होता है जो हमारे जीवन के लिए अत्यंत जरुरी है | शास्त्रों में भारत की पवित्र नदियों के बारे में विस्तार से महिमा बताई गयी है | नर्मदा नदी की उत्पति का दिन इनकी जयंती के रूप में मनाया जाता है |

नर्मदा जयंती पर जाने माँ नर्मदा से जुड़ी रोचक बाते

पढ़े : – नर्मदा नदी के उत्पन्न होने की पौराणिक कथा


नर्मदा जयंती महत्व 2019

नर्मदा आरती जयंती पर

नर्मदा जयंती हर साल माघ मास की शुक्ल पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता है | नर्मदा नदी के तट पर इसे सनातन प्रेमी बड़ी धूम धाम से इसे मनाते है | इस साल 2019 में 12 फरवरी मंगलवार को यह मनाई जाएगी | इसे मुख्य रूप से मध्य प्रदेश के अमरकंटक में मनाया जाता है जिसे नर्मदा का उद्गम स्थल माना जाता है | ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग नर्मदा के तट पर ही स्तिथ है |

कैसे मनाते है नर्मदा जयंती

इस दिन भक्तगण माँ नर्मदा के तट पर एकत्रित होते है | उसके बाद वे नर्मदा के तट पर स्नान करके इस नदी का गुणगान और जयकारे लगाते है | फिर दीपक पुष्प से माँ नर्मदा की महा आरती उतारते है | फिर  नर्मदा के जल से नजदीकी शिवलिंग का अभिषेक करते है | बहुत से भक्त अपने साथ इस नदी के पवित्र जल को अपने घर ले जाते है | संध्या के समय बहुत सारे धार्मिक कार्यक्रम इस नदी के तट पर आयोजित होते है |

narmada river

नर्मदा नदी से जुड़ी रोचक बाते

~ इस नदी का एक एक पाषाण  नर्मदेश्वर शिवलिंग के रूप में बिना प्राण-प्रतिष्ठा के पूजित माना गया है |

~ भगवान शिव ने इस नदी को उत्पन्न किया जो कि 12 वर्ष की अति सुन्दर रूपवान कन्या थी | कही कही नर्मदा को पर्वतराज मैखल की पुत्री भी बताया गया है |

~ यह भारत के अन्दर बहने वाली तीसरी सबसे बड़ी नही है जिसकी लम्बाई 1312 km की है |

~ मैकल पर्वत के अमरकण्टक शिखर से यह नदी पूर्व से पश्चिम दिशा की तरफ बहती है और खम्भात की खाड़ी (अरब सागर ) मे मिलती है |

~माँ नर्मदा में स्नान कर शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने से अक्षय पूण्य की प्राप्ति होती है |

Other Similar Posts

भारत के पवित्र और धार्मिक पहाड़ कौनसे है

धार्मिक सप्तपुरी नगर आस्था से परिपूर्ण भारत के 7 शहर

पार्थिव शिवलिंग की पूजा का महत्व और निर्माण विधि

घर में रखे शिवलिंग की पूजा से जुड़े नियम

अमरनाथ बर्फानी शिवलिंग का चमत्कार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.