चन्द्र देवता से जुड़ी मुख्य 10 बाते

कौन है भगवान चन्द्रमा

भगवान चन्द्र देवता रात्रि में दर्श्यमान देवता है | इन्हे जल तत्व का देवता भी माना जाता है | यह भगवान शिव की जटाओ में अर्ध चन्द्र के रूप में विराजमान है | यह ज्योतिष के नवग्रह में दुसरे नंबर पर आते है | इन्हे वहा चन्द्र ग्रह कहा जाता है | इनका प्रिय दिन शिव की पूजा सोमवार का वार ही है |  चंद्रमा की महिमा और हमारे जीवन में महत्व से जुडी कोई रोचक जानकारी निचे दी जा रही है |


पढ़े : चन्द्र देवता की आरती पूर्णिमा को जरुर करे

पढ़े : देवी देवताओ की पौराणिक कथाये

चन्द्र देवता की महिमा

चन्द्र देवता

चन्द्र देवता महिमा




आइये जानते है भगवान चन्द्रमा से जुडी 10 रोचक बाते

  1.  माता पिता : भगवान चन्द्र देवता के माता पिता का नाम ऋषि अत्रि और अनुसूया था | इसी अनुसूया को त्रिदेव की माता भी बनने का सुख प्राप्त हुआ था |
  2. कलाये : चन्द्र देव की 16 कलाये है |
  3. पुत्र : इनके रोहिणी पत्नी से बुध ग्रह के रूप में पुत्र की प्राप्ति हुई है |
  4. मन को नियंत्रण : ज्योतिष शास्त्र में इन्हे मन का कारक बताया गया है | मन में आने वाले विचार चंद्रमा की कला पर निर्भर करते है |
  5. चन्द्रमा के भाई : इनकी माता के दो पुत्र ओर भी हुए थे | चन्द्र देव के भाई  भगवान दत्तात्रेय और ऋषि दुर्वासा  थे |
  6. चौदह रत्न में एक : स्कंदपुराण में प्रसंग के अनुसार देवता और दानवो के बीच जब समुन्द्र मंथन हुआ तो उसमे एक रत्न चन्द्र देवता भी थे | इनके शिव शंकर ने अपने मस्तिष्क पर धारण कर लिया |
  7. दक्ष कन्याओ से विवाह : इन्होने प्रजापति दक्ष की 27 कन्याओ से विवाह किया | यह सभी कन्याये ज्योतिष शास्त्र में 27 नक्षत्रों के रूप में जानी  जाती है |
  8. गणेश श्राप : एक बार इन्हे गणेश पर हंसी आ गयी और उस कारण गणेश ने चंद्रमा को श्राप दे दिया की उनका आकर कभी भी एक सा नही रहेगा | यही कारण है अमावस्या पर चंद्रमा दिखाई नही देते जबकि पूर्णिमा के दिन पुरे दिखाई देते है |
  9. पूर्णिमा का महत्त्व : हर माह एक पूर्णिमा आती है | पूर्णिमा के उपाय करके आप चन्द्र देवता को प्रसन्न कर सकते है | इस दिन चंद्रमा पूर्ण दिखाई देते है |
  10. प्रिय चीजे : भगवान चन्द्र देवता को सफेद चीजे प्रिय है | पूर्णिमा के दिन इनकी पूजा खीर , चावल , दूध आदि से करनी चाहिए |
  11. सोमनाथ : चन्द्र देवता ने महा तपस्या करके भगवान शिव के सोमनाथ ज्योतिर्लिंग  की स्थापना की थी | यह 12 ज्योतिर्लिंगों में सबसे पहले स्थान पर आता है |


Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.