इन चीजो को भूलकर भी ना लगाएं पैर, जीवन हो जाएगा बर्बाद

Jeevan Me Kabhi Bhi Enke Pair Nahi Lagana Chahiye : हमारे प्राचीन संस्कार आदर और मानवीय मूल्यों के घोतक है | इनके पीछे वैज्ञानिक कारण और आध्यात्मिकता भी जुड़ी हुई है | भारतीय संस्कृति में बड़ो के चरण स्पर्श का आशीष प्राप्ति का भी महत्व अत्यधिक है | यह छोटो का बड़ो के पीछे सम्मान को दर्शाता है | मान्यता है कि आशीर्वाद देने वाले के हाथो से कुछ ऐसी सकारात्मक उर्जा चरण स्पर्श करने वाले के सिर में प्रवेश करती है जो भाग्योदय करने वाली होती है | आज हम इस लेख में उनके बारे में बताएँगे जिन्हें कभी पैर नही लगाना चाहिए |
पढ़े : नहाने के समय बोले ये 5 मंत्र , सकारात्मक उर्जा से भर जायेगा आपका शरीर

जीवन में कभी इनके पैर ना लगाये

ब्राह्मण
हिंदू समाज में ब्राह्मण को हमेशा पूजनीय माना गया है | वे ज्ञान के भंडार और अच्छी शिक्षा देने वाले होते है | ईश्वर का मार्ग दिखाने वाले ब्राह्मणों का सम्मान हमें हमेशा करना चाहिए | कभी भी इनके पैर नही लगाने चाहिए अन्यथा आप पाप के भागी बनते है |

छोटी कन्याये
नवरात्रि में अंतिम दिन छोटी कन्याओं को देवी तुल्य माना जाता है | हिन्दू धर्म में प्रबल मान्यता है कि छोटी कन्याये वैष्णो देवी का रूप है अत: कभी भी इनके पैर नही लगाने चाहिए | ना ही इनके साथ कभी बुरा व्यवहार करना चाहिए |

अग्नि या अग्नि के पात्र के
आग या अग्नि को  हिंदू धर्म में अग्नि देवता के रूप में पूजा जाता है | बिना अग्नि के कोई पूजा पूर्ण नही होती है |  सूर्य भी अग्नि का ही पुंज है | इनके बिना जीवन संभव नही है | अत: अग्नि देवता या उनके दीपक या किसी भी पात्र के कभी पैर नही लगाना चाहिए ।


गुरु
guru
गुरु को ईश्वर से भी ऊपर माना गया है क्योकि गुरु से ही ज्ञान प्राप्त होता है | ज्ञान से भक्ति और साधना और फिर इससे भगवान | माँ को सबसे पहला गुरु माना गया है फिर वे सभी चीजे गुरु के समान है जिससे हम सीख सकते है | गुरु के पैर लगाने को महापाप बताया गया है |

पढ़े : गुरु पूर्णिमा पर दोहे ,शायरी और कविता

बुजुर्गो के
घर के बड़े बुजुर्गो का कभी पैर अपमान नही करना चाहिए  घर के बड़े बूढ़े अपने आप आपके घर के गुरु और ईश्वर दोनों बन जाते हैं। ऐसे में उन्हें कभी भी पैर नहीं लगाना चाहिए। उनकी सेवा करना बहुत ही अच्छा होता है। आपके घर के बुजुर्ग आपकी घर की ढाल होते हैं। हमेशा उनकी सेवा करें और उनके साथ कभी बुरा नहीं करना चाहिए।

भगवान की फोटो , प्रतिमा और धार्मिक किताबो के
कभी भी भगवान की फोटो , प्रतिमा या धार्मिक किताबो और ग्रंथो के पैर नही लगाना चाहिए | पैर लगाना उस ईश्वर का अपमान करना है जिसने यह समस्त जगत बनाया है |

Other Similar Posts

मकर संक्रांति पर ये 5 उपाय दिलाते है जीवन में यश और सम्मान

इस तरह की 9 गलतियां करने वाले लोग रहते हैं जीवन भर कंगाल

पोंगल त्योहार क्या है और इसे कैसे मनाते है

बर्बाद कर देती है घर में रखी ऐसी पांच वस्तुए 

सोते समय ध्यान रखनी चाहिए ये बाते

फेंग शुई में तीन पैरो वाले मेंढक का महत्व और लाभ  

 

 

One comment

  • सभी बातें अच्छे संस्कारों की द्योतक हैं। छोटे बच्चों को ये संस्कार सिखाने आवश्यक है।
    अच्छी जानकारी।
    धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.