बुलेट बाबा ओम बन्ना का चमत्कारी मंदिर

ओम बन्ना  उर्फ़ बुलेट बाबा जो वाहन चालको द्वारा पूजे जाते है | नेशनल हाइवे पर एक नीम के पेड़ के निचे इनका एक चबूतरा बनाया हुआ है और साथ ही इनकी बाइक बुलेट 350 | हर वाहन चालक इस जगह से गुजरते वक़्त इनके सामने झुककर अपनी यात्रा की कुशलता की मन्नत करता है |

ओम बन्ना की बुलेट बाइक

किस जगह है ओम बन्ना का यह बाइक वाला मंदिर :  

यह मंदिर राजस्थान के पाली जिले में जोधपुर पाली हाइवे पर चोटिला गाँव के पास मुख्य सड़क पर है | यह स्थान जोधपुर से 50 किमी की दुरी पर स्थित है |



इस जगह एक पेड़ के चबूतरे पर इनकी बड़ी सी फोटो लगी हुई है जिसके सामने एक अखंड ज्योत लगातार जलती रहती है | पास में ही रखी है इनकी बाइक जिसपर भक्त चढाते है माला | यहा ऐसा माना जाता है है की बाइक की पूजा करने से सीधे ओम बन्ना की पूजा होती है क्योकि उन्हें यह बाइक बहुत प्रिय थी |

क्यों पूजे जाते है ओम  बन्ना :

ओम सिंह राठोड़ ओम बन्ना

ओम बन्ना का पूरा नाम    ओम सिंह राठौड़ था | 1988 में इसी हाईवे से जाते समय एक खतरनाक मोड़ पर दुर्घटना घटित हो गयी और उस जगह मौके  पर ही उनकी मौत हो गयी |



उनके मरने के बाद अगले दिन उनकी इस बाइक और थाने में लाया गया पर चमत्कारी रूप से उस रात वो बाइक थाने से गायब होकर दुर्घटना वाली जगह पाई गयी | पुलिस वाले समझ नही पा रहे थे की यह बाइक यहा पर कौन लाया | पुनः पुलिस बाइक को थाने ले गयी पर हर बार बाइक   दुर्घटना वाली जगह पर ही पाई जाती | चमत्कार को नमस्कार कह कर पुलिस ने वो बाइक हमेशा के लिए वही खड़ी कर दी |

इसके बाद इस रोड पर और इस मौत के मोड़ पर बहुतो बार ओम बन्ना ने वाहन चालको को दुर्घटना से बचाया है | कई वाहन चालको का कहना है की उन्हें किसी अनहोनी होने से पहले ओम बन्ना पहले से सचेत कर देते है |

उनकी बाइक का अपने आप थाने से इस पेड़ के निचे आ जाना और बहुत सारे व्यक्तियों की जान बचाने के किस्से से आज ओम बन्ना यह ईश्वर की तरह पूजे जाने लगे है | उनके किस्से दूर दूर तक फ़ैल गये है और जो भी इस राह से गुजरता है एक बार उनके इस मंदिर में माथा जरुर ठेक के जाता है |

वाहन चालक अपने वाहनों में ओम बन्ना की तस्वीर लगाने लगे है जिससे उनकी कृपा से उनका वाहन सुरक्षित रहे |

यह भी जरुर पढ़े

माँ लक्ष्मी की कृपा से कैसे रखे अपना पर्स भरा भरा

जाने गरीबी के मुख्य कारण और उनका निदान

इस देवी मंदिर में दीपक जलता है पानी से , नही पड़ती तेल और घी की जरूरत

पूजन के जुड़े मुख्य शब्द और उनके अर्थ जाने

इस मंदिर में पति पत्नी एक साथ पूजा करे तो मिलता है दोष

ढाई गिलास मदिरा का पान करती है काली माँ भवाल माता मंदिर राजस्थान

हिन्दू सनातन धर्म से जुडी मुख्य कथाये और कहानियाँ

जाने चमत्कारी मुख्य मंदिरों के बारे में और उनकी महिमा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.