सूर्य नमस्कार से स्वास्थ लाभ

सूर्य नमस्कार नियम

सूर्य नमस्कार का सीधा सा अर्थ है भगवान सूर्य को प्रणाम करना | यह परम्परा बहूत प्राचीन है जो हम्हे हम्हारे तपस्यी ऋषि मुनियों से आद्यात्मिक सम्पदा के रूप में प्राप्त हुई है | आध्यातिमक चेतना का जीवंत प्रतिक है सूर्य देवता | प्राचीन काल में ही यह सूर्योपासना योग विधि मनुष्य के नित्य कर्म में सम्मिलित थी | पढ़े […]

Read more

पंचमुखी हनुमान रूप की महिमा

पंचमुखी हनुमान जी

हनुमान का पञ्चमुखी धारण करने की कथा रामायण में प्रसंग के अनुसार एक बार अपनी माया से रावण के पुत्र अहिरावण  ने राम लक्ष्मण को अपहरण कर लिया | वह उन दोनों को पाताल लोक ले गया | जब संकट मोचन हनुमान को यह पता चला तो वे भी वहा पहुँच गये | द्वार पर उनका उनके पुत्र मकरध्वज से […]

Read more

शिव महापुराण

शिव महापुराण

18 महापुराणो में शिव महापुराण को सर्वोपरि बताया गया है | यह पुराण ही सभी महापुराणो का सार है | इस पुराण का चेतन पाठ करने से सभी पापो का अंत हो जाता है | मन शिवमय होकर शिव भक्ति और शिव लीला में लीन हो जाता है | हम सभी यह तो जानते है की शिवजी को संहारकर्ता कहा […]

Read more

देवी देवता और उनके वाहन

हिन्दू देवी देवता

जाने हिन्दू देवी देवताओ के वाहन और उनके होने का प्रयोजन भगवान शिव : इनका वाहन बैल है जिसे नंदी कहा जाता है | नंदी बहुत ही मेहनती शांत और भोला प्राणी है जैसे उनके सवार शिवजी शांत और भोले है | माँ दुर्गा : माँ दुर्गा का वाहन है शेर | इसी के कारण इन्हे भक्त शेरोवाली माता भी […]

Read more

भगवान और उनके अर्पण करने वाले पुष्प

पुष्प अर्पण भगवान् को

पुष्प ईश्वर को पूजा में चढ़ाये जाते है | पुष्प सुगंध और सुन्दरता  का प्रतीक है | हर देवी देवताओ को अलग अलग उनके अनुसार पुष्प अर्पण किये जाते है | किस देवी देवता को कौनसा पुष्प चढ़ाये माँ काली – इनको अड़हुल का पुष्प अति प्रिय है। कहते है 108 लाल अड़हुल के फूल अर्पित करने से माँ प्रसन्न होकर भक्तो की मुरादे पुरी […]

Read more

क्यों रखी जाती है शिखा चोटी

शिखा ( चोटी ) रखने के पीछे के कारण : Benefits Of Keeping Shikha or Choti on Head in Hindi . प्राचीन काल में लोग सिर पर शिखा रखते थे , आज भी कई ब्राह्मण गुरु इसी तरह सिर पर शिखा रखकर इस परंपरा का पालन कर रहे है | यह आर्यों की पहचान और परम्परा का घोतक है | […]

Read more
1 10 11 12