शनि जयंती के कारगर उपाय से प्रसन्न होंगे भगवान शनि देव

शनि जयंती के चमत्कारी उपाय से दूर होंगे ग्रह दोष Shani Jayanti Par Shani Ko In Upayo Se Kare Prasnn जयेष्ट मास की अमावस्या का दिन शनि जयंती के रूप में मनाया जाता है | इसी दिन सुहागिन महिलाए वट सावित्री व्रत रखती है और वट वृक्ष की  पूजा करती है जिससे उनके पति की उम्र दीर्घायु हो | शास्त्रों […]

Read more

अपरा एकादशी की कथा , महत्व और व्रत विधि

अपरा एकादशी व्रत  का महात्म्य जगत के पालनहार और धन की देवी लक्ष्मी के पति भगवान श्री विष्णु की पूजा का सबसे बड़ा दिन हर माह में आने वाली एकादशी का दिन माना जाता है | इस दिन की गयी पूजा से नाना प्रकार के पापकर्म का प्रभाव मिटता है और ईश्वर की कृपा की प्राप्ति होती है | हिन्दू […]

Read more

अक्षय तृतीया पर क्यों खरीदते है सोना

Akshya Tritaya Par Sona (Gold) kyo Kharida Jata Hai अक्षय तृतीया का पावन पर्व वैशाख महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है. इस बार 2018 में यह  18 अप्रैल आ रही है.  अक्षय तृतीया का हिन्दू धर्म (Hinudism ) में अत्यंत महत्व है , खास तौर पर खरीददारी (Purchasing ) के लिए | इसके ठीक २ […]

Read more

गणेश चतुर्थी पर शुभ कामना सन्देश मेसेज

गणेश चतुर्थी पर शायरी और बधाई मेसेज Ganesh Chaturthi Message and Wishes in Hindi भगवान श्री गणेश के जन्मोत्सव गणेश चतुर्थी पर पूजा का अत्यंत महत्व है | इस दिन की गयी पूजा विध्नहर्ता जल्दी स्वीकार कर अपने भक्तो पर कृपा बनाते है | इस पर्व पर हम आपके लिए लाये कुछ मुख्य शायरी और बधाई सन्देश जो आप मेसेज […]

Read more

कृष्ण जन्माष्टमी पर शुभकामना सन्देश और बधाई मेसेज

कृष्ण जन्माष्टमी शायरी और बधाई मेसेज द्वापर युग में भगवान श्री कृष्ण ने विष्णु के अवतार के रूप में धर्म की रक्षा के लिए धरती पर अवतार लिया | उन्होंने अपने बाल रूप में कई चमत्कारी लीलाए की जैसे गोवर्धन पर्वत को छोटी अंगुली से उठाकर ब्रज वासियों की रक्षा करना | अपने दुष्ट मामा कंस का वध करना आदि […]

Read more

विवाह पंचमी का क्या है खास महत्व

विवाह पंचमी का महत्व मार्गशीर्ष शुक्ल पंचमी को अयोध्या के राम ने माता सीता के साथ विवाह किया था तब से यह तिथि को राम जानकी विवाहोत्सव के रूप में मनाया जाता है . इसे विवाह पंचमी के नाम से कहते हैं. भगवान राम आदर्श पुत्र और मानवता के प्रतिक जबकि लक्ष्मी रूप में शक्ति  सीता थी | यह आदर्श […]

Read more

लोहड़ी का त्यौहार मनाने के पीछे कारण

क्यों मनाते है लोहड़ी लोहड़ी तीन अक्षरों से बना है जिसके अर्थ में ही इस त्योहार का सम्पूर्ण रूप छिपा है | लो = आग, ओह = उपले ,एडी = रेवड़ी, इन सब का मिश्रण होता है लोहड़ी | लोहड़ी का त्योहार, मकर संक्रांति के एक दिन पहले अग्नि की पूजा के रूप में पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, दिल्ली के […]

Read more

हनुमान जयंती शायरी , सन्देश , शुभकामनाये

हनुमान जयंती पर शुभकामना सन्देश राम का हूँ भक्त मैं, रूद्र का अवतार हूँ अंजनी का लाल हूँ मैं, दुर्जनों का काल हूँ साधुजन के साथ हूँ मैं, निर्बलो की आस हूँ सद्गुणों का मान हूँ मैं, हां मैं हनुमान हूँ | ************************* भूत-पिशाच निकट नही आवै, महावीर जब नाम सुनावै, नासै रोग हरै सब पीरा, जपत निरंतर हनुमत बीरा […]

Read more

गंगा सप्तमी का महत्व और कथा

Significance & Story of Ganga Saptami in Hinduism  गंगा सप्तमी का हिन्दू धर्म में महत्व गंगा सप्तमी वैशाख मास शुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को मनाई जाती है | इस तिथि को लेकर पौराणिक मान्यता यह है की इस दिन गंगा के धरती पर अवतरण पर शिव जी ने उन्हें अपनी जटाओ में स्थान प्रदान कर उनके वेग को कम […]

Read more

क्यों मनाया जाता है गणगौर का त्योहार

गणगौर का त्योहार यह त्योहार शिव पार्वती की पूजा के रूप में महिलायों द्वारा समूह में धूम धाम से मनाया जाता है | इसका मुख्य दिन चैत्र शुक्ल तृतीया का है जो चैत्र नवरात्रि का तीसरा दिन होता है  | गण यहा शिव जी के लिए और गौर शब्द माँ पार्वती जी के लिए काम में लिया गया है | […]

Read more
1 2 3 9