दफनाने के 2 महीने बाद भी मुस्कुराता रहा ‘भिक्षु’ का पार्थिव शरीर

महीनो तक मुस्कुराता रहा यह शव

धर्म-आध्यात्म का मार्ग हमेशा से रहस्यमयी रहा है. कंबोडिया के पूज्य बौद्ध भिक्षु ‘ल्वांग फोर पियान’ के क्रियाकर्म के 2 महीने के बाद एक आश्चर्यजनक घटना हुई. बौद्ध परंपरा के तहत उनके पार्थिव शरीर को उस ताबूत से निकाला गया, जिसमें उन्हें रखा गया था.

smiling face of boudh bhikshuk


कब दफनाया गया था

बौद्ध भिक्षु ‘ल्वांग फोर पियान’ को  16 नवंबर 2017 को जमीन में मृत्यु के बाद एक ताबूत मे दफनाया गया था | एक बौद्ध परंपरा के अनुसार उन्हें दो माह बाद फिर से उस ताबूत से निकालकर नए स्वच्छ वस्त्र पहनाने थे | जब उनके अनुयायियो ने ताबूत खोलकर देखा तो उनके आश्चर्य का कोई ठिकाना नही रहा |


monk-boudh

Photo : News18.com

दो माह बाद भी भिक्षु का मृत शरीर सड़ना और नष्ट होना शुरू नही हुआ था | यहा तक की मृत्यु के समय जैसे बौद्ध भिक्षु के चेहरे पर मुस्कुराहट थी , वैसी ही अभी भी बनी हुई थी |

यह देखना उन सभी के लिए किसी चमत्कार से कम नही था |

 

sabhar :hindi.news18.com

Other Similar Posts

न्यू लकी रेस्टोरेंट – अहमदाबाद – कब्रों के बीच बना अनोखा रेस्टोरेंट

रहस्यमयी तांत्रिक बावड़ी – पानी पीते ही लड़ने-झगड़ने लगते थे लोग

पेड़ पौधो की ये 8 तस्वीरे चौंका देगी आपको

धन हानि करवाती है मनुष्य की ये आदते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *