पीली कौड़ी के साथ हल्दी का यह टोटका , लक्ष्मी को खीच लायेगा घर में

पीली कौड़ी के साथ हल्दी का यह टोटका , खीच लायेगा लक्ष्मी को

Peeli Koudi Ke Sath Haldi Ka Yeh Upay Lakshmi Ko Khich Lata Hai

तंत्र विज्ञान में बताया गया है की धनलक्ष्मी को पीली कौड़ियां अपनी तरफ आकर्षित करती है | यह देवी लक्ष्मी को प्रिय चीजो में से एक है | यदि हम इसे सही तरीके से कार्य में ले तो देवी माँ लक्ष्मी हमारे घर में स्थाई निवास कर लेती है | इससे घर में किसी को पैसो की कमी नही आती | पीली कौड़ी हालाकि समुन्द्र से निकलती है पर आसानी से किसी भी पंशारी की दुकान पर मिल जाती है | आइये अब जानते है वो उपाय जो लक्ष्मी जी की आर्थिक कृपा आप पर बरसा सकता है ……


पढ़े : लाल किताब के अचूक टोटके और उपाय

पीली कौड़ी और हल्दी का यह टोटका

किसी भी अमावस्या या शुक्रवार का दिन चुन ले | कार्तिक अमावस्या के दिन दीपावली की पौराणिक कथा से हमें पता चलता है की इसी दिन विष्णु प्रिय लक्ष्मी जी का अवतरण हुआ था | और शुक्रवार को देवी की पूजा का दिन माना गया है | यदि कोई अमावस्या शुक्रवार को आ रही है तो यह प्रयोग उस दिन करना सबसे उत्तम होगा |

अब आप सुबह ब्रह्म मुहूर्त में नहा ले और लाल वस्त्र लगाकर लकड़ी की चोकी पर लक्ष्मी जी की प्रतिमा या फोटो को विराजित करे |

अब एक प्याली में 7 पीली कौड़ियां और 7 हल्दी की गाँठ रखे और इसे पूजा स्थल पर रख दे |


सम्पूर्ण षोडशोपचार पूजन विधि से देवी माँ लक्ष्मी की पूजा करे |

माँ लक्ष्मी से विनती करे की आपको अपार धन दे और आप उसका सदउपोग करेंगे |

haldi or koudiअब इन पूजा में ली गयी सभी कौड़ियो और हल्दी की गांठो को एक लाल रंग के कपडे में बांधकर घर की तिजोरी अलमारी और उन स्थानों से स्पर्श कराये जहा आप धन रखते हो |

इसे फिर आप घर के मुख्य द्वार पर लटका दे , यह एक तरीके से टावर का काम करेगा जी धन लक्ष्मी को अपनी तरफ आकर्षित करेगा |

इस टोटके के बारे में किसी से जिक्र ना करे |

हर दिन द्वार के पास अच्छे से साफ़ सफाई का ध्यान दे , सफाई ऐसे करे की जैसे माँ लक्ष्मी आपके घर में प्रवेश करने वाली है |

Other Similar Posts

लक्ष्मी को प्रिय कौड़ी के सिद्ध 6 उपाय

धन हानि करवाती है मनुष्य की ये आदते

घर में रखे ये 10 चीजे , कभी धन की कमी नहीं आएगी

लाल किताब के अचूक टोटके और उपाय

रुका और फंसा हुआ धन प्राप्ति के उपाय टोटके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.