पितृ दोष निवारण यन्त्र और मंत्र

पितृ दोष निवारण के मंत्र कौनसा है ? पितरो के नाम से एक माला या तो हर दिन या फिर अमावस्या के दिन जरुर फेरे | अपने पितरो को प्रसन्न रखने और उनसे क्षमा मांगने के लिए निम्न मंत्र है | पढ़े : कौन है पितृ देवी देवता कैसे करे पितृ दोष को दूर जाने प्रभावी उपाय पितृ दोष निवारण […]

Read more

नारद के श्राप से विष्णु ने लिया राम अवतार

नारद मुनि श्राप -सीता राम वियोग

भगवान श्री राम के अवतार के पीछे नारद मुनि का श्राप : अपनी करनी का फल सभी को भोगना पड़ता है चाहे वो मनुष्य हो या देवता | आज इस पौराणिक लेख में हम आपको यही बताएँगे की किस तरह भगवान विष्णु को राम का अवतार लेकर सीता मैया से वियोग झेलना पड़ा | यह सब नारद मुनि के श्राप […]

Read more

अबूझ सावे कब कब आते है

अबूझ सावे शुभ दिन विवाह के

अबूझ सावे ऐसे दिन होते है जिनपे बिना पंडित को पूछे  और पंचांग को देखे मांगलिक कार्य संपन्न किये जाते है | ये दिन स्वयं सिद्ध होते है और इन दिनों को अति शुभ माना जाता है | आइये जाने की कब कब यह अबूझ सावे के दिन आते है | १) बसंत पंचमी : माँ सरस्वती के जन्म का […]

Read more

अक्षय तृतीया पर्व का महत्व

akshya tritya festival

अक्षय तृतीया जिसे आखा तीज भी कहा जाता है , बैसाख मास की शुक्ल तृतीया को आती है | यह तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो की मानी जाती है और इस दिन कोई भी कार्य करे वे सिद्ध होते है | ज्योतिष शास्त्र में बिना पंचांग के इस दिन के सभी मुहूर्त मंगलकारी होते है |  इस दिन किये गये अच्छे धार्मिक  […]

Read more

काली मिर्च के दाने कर दे धन से जुडी समस्या को दूर

यदि पैसो से जुडी समस्याये आपको घेरी रहती है तो काली मिर्च का एक छोटा सा टोटका आपको आर्थिक रूप से राहत दिला सकता है | काली मिर्च ओषधी के साथ साथ टोने टोटके के लिए भी बड़ी उपयुक्त चीज है | यह टोटका अत्यंत कारगर है और इसके प्रभाव से इसे करने वाले के अचानक धन योग बन जाता […]

Read more

अमावस्या के यह उपाय चमका देंगे आपके भाग्य को

अमावस्या के चमत्कारी उपाय

अमावस्या के चमत्कारी उपाय को चमका दे आपकी सोई हुई  किस्मत को हिन्दु पंचांग में हर महीने एक    अमावस्या आती है जब पूर्ण अंधकार होता है रात्रि में | यह रात पूर्णिमा के रात की बिलकुल विलोम है | ज्योतिष और  तंत्र शास्त्र बताते है की अमावस्या के दिन किये  गए उपाय तुरंत और अति फलदायी होते है | इस […]

Read more

लोहार्गल धाम और सूर्य मंदिर झुन्झुनू

लोहार्गल तीर्थ यात्रा

राजस्थान के झुन्झुनू जिले से 70 कि॰मी॰ दूर आड़ावल पर्वत की घाटी में बसे उदयपुरवाटी कस्बे से करीब दस किमी की दूरी पर स्थित है लोहार्गल जिसका नामकरण का सम्बन्ध पांडवो से जुड़ा हुआ है |यह नवलगढ़ तहसील में आता है और राजस्थान में पुष्कर तीर्थ के साथ मुख्य तीर्थ स्थल है | क्यों पड़ा नाम लोहार्गल तीर्थ : जैसा […]

Read more

माँ दुर्गा की मूर्ति की आँखों से निकले आँसू

Goddess Durga Cried and Tears From Eyes At Jabalpur माँ दुर्गा ममता की साक्षात् देवी है | हमेशा अपने भक्तो की रक्षा के लिए तैयार रहती है | कलियुग में फ़ैल रहे लोभ लालच पाप से उनके भक्त भी इस माया में फंस चुके है | शायद यही कारण है की मध्य प्रदेश के जबलपुर में एक दुर्गा की मूर्ति […]

Read more

शीतला माता से जुडी मुख्य पांच बाते

कौन है शीतला माता

शीतला माता की यह पांच बाते जरुर जाने शीतला माता को चेचक रोग की देवी बताया गया है | आपने सुना भी होगा की उस व्यक्ति या बच्चे के माता निकल गयी , और शरीर पर बहुत सारी फुंसियां हो गयी | १)शीतला माता के चार हाथ बताये गये है जिसमे झाड़ू , कलश , नीम के पत्ते और सूप […]

Read more

भगवान श्री कृष्ण की मृत्यु

मित्रों हम अक्सर सुनते हैं जो इस धरती पर आया है उसे एक दिन जाना होता है जन्म और मरण यंत्र करने वाले एक प्रक्रिया है ऐसा ही कुछ हुआ था द्वारिकाधीश श्री कृष्ण भगवान के साथ उनकी भी मृत्यु हुई थी भले ही वह स्वेच्छा से हुई हो ! इस नियम में बस आठ चिरंजीवी ही ऐसे है जो […]

Read more
1 2 3 31