गंगासागर तीर्थ स्थल की यात्रा

गंगा का जब भारत के पूर्वी सागर से मिलन होता है वो स्थल गंगा सागर के नाम से जानी जाती है | इसे गंगा सागर संगम के नाम से भी जाना जाता है | यह महा नदी बंगाल की खाड़ी से मिलती है |  यह हिन्दूओ के मुख्य तीर्थ स्थलों में से एक है | यह एक 300 वर्ग किमी […]

Read more

गंगा दशहरा की कथा और महत्व

गंगा दशहरा का हिन्दू धर्म में अत्यंत महत्व है | इस दिन गंगा स्नान करने से मनुष्य के सभी पाप नष्ट हो जाते है और मोक्ष की प्राप्ति होती है | काशी ,हरिद्वार ,प्रयाग संगम और गंगा सागर जैसे गंगा तट वाले तीर्थस्थलो पर भारी संख्या में श्रद्धालु आते है और गंगा स्नान का पुण्य कमाते है | गंगा दशहरा […]

Read more

तीर्थराज प्रयाग की महिमा

उत्तरप्रदेश के प्राचीनतम तीर्थो में प्रयाग का नाम सबसे ऊपर आता है | यह आधुनिक समय में इलाहाबाद के नाम से जाना जाता है | हमारे प्राचीनतम ग्रंथो में इस धार्मिक शहर के महत्व और महिमा का वर्णन किया गया है | इसे साधू संतो ने तीर्थो के राजा ‘ तीर्थ राज ‘ की संज्ञा दी है | प्रयाग की […]

Read more

बुधवार को इन 5 उपायों से करे गणेश जी को प्रसन्न

5 Tips To Please Lord Ganesha (गणेश जी को खुश करने के पांच उपाय ) विघ्नहर्ता सुखकर्ता देवा श्री गणेश की महिमा सबसे बड़ी मानी गयी है | कोई भी धार्मिक कार्य , पूजा पाठ में यह सबसे पहले जो पूजे जाते है | बुद्धि के देवता श्री गणेश की जिस पर कृपा हो जाती है वो सभी सुखो का […]

Read more

किस देवी देवता के मंत्रो के जप के लिए कौनसी माला

तंत्र मंत्र  की दुनिया में सबसे बड़े आराध्य देव भगवान शिव और उनके एक रूप काल भैरव की पूजा की जाती है जबकि माँ शक्ति के रूप में महाकाली की साधना करते है | यह तामस रूप के देवता है | जबकि भगवान विष्णु और उनके अवतार  , माँ दुर्गा , गणेश सात्विक देवता में गिने जाते है | इन […]

Read more

माला से मंत्र जप के 10 मुख्य नियम और विधि

माला से कैसे करे सही तरीके से मंत्रो का जाप हमारे धार्मिक शास्त्रों में बताया गया है की मंत्र जाप अपने आराध्य देवी देवता तक पहुँचने का एक मन से मार्ग है | मंत्र का अर्थ : ” मन: तारयति इति मंत्र ”  अर्थात् जो ध्वनि या कम्पन मन को तारने वाली हो वही मंत्र है | मन्त्र जाप करने […]

Read more

नवग्रहों की शांति के लिए पेड़ो की आराधना

भारत के ज्योतिष शास्त्र के अनुसार प्राकृतिक पेड़ पौधे भी नवग्रह शांति के लिए अहम भूमिका निभाते है | यदि कोई विशेष ग्रह आपको परेशान कर रहा है तो उस ग्रह के प्रिय पेड़ या पौधे की पूजा अर्चना करे | उस उक्त नवग्रह का बीज मंत्र का जाप करे | आपको वो ग्रह अच्छे परिणाम देना शुरू कर देगा […]

Read more

नवग्रह मंत्र : एक शक्तिशाली मंत्र से कम करे नवग्रह दोष

हमारे शास्त्रों में नवग्रहों की शांति और उनकी कृपा पाने के लिए एक अत्यंत शक्तिशाली मंत्र बताया गया है | हालाकि यह मंत्र जाप करने में थोडा कठिन है पर यदि आप ध्यानपूर्वक इसे याद करके मन ही मन जप करेंगे तो आप अपने भाग्य को शुभफलदायी बना सकेंगे | नवग्रह शांति मंत्र (Navgrah Shanti Mantra) यह चमत्कारी मंत्र निम्न […]

Read more

सभी नवग्रहों की शांति के लिए मंत्र और जाप विधि

जिन्हें ज्योतिष शास्त्र और कुंडली में विश्वास है वो अच्छे से जानते है की नवग्रह किस तरह किसी के जीवन शांति भी ला सकते है तो अशांति भी | नवग्रह की महिमा इतनी है की उनके भी देवी देवताओ की तरह पूजा जाता है |  हमारी कुंडली में कभी कभी ग्रह दोष से बहुत परेशानियां उत्पन्न हो जाती है | […]

Read more

नवग्रह कौनसे है और उनके नाम और महिमा क्या है

ज्योतिष शास्त्र  में नवग्रह और राशियाँ मुख्य आधार है | यह सभी ग्रह भगवान शिव के रूद्र रूप से जन्मे है और हर व्यक्ति के अच्छे बुरे दिन का कारण बनते है |जीवन अच्छे से चलते चलते सब कुछ उल्टा होने लगता है तो हो सकता है की कोई ग्रह आपको दोष दे रहा है | कौन कौन से होते […]

Read more
1 2 3 45